यूपीआई ट्रांजैक्शन में 1 लाख करोड़ से भी ज्यादा का इजाफा, 3 अरब के आसपास

एक महीने पहले नवंबर में यह आंकड़ा 524.94 मिलियन था. 2018 का कुल ट्रांजैक्शन देखें तो यह 3 अरब के आसपास

नई दिल्ली

नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (एनपीसीआई) ने अपने टि्वटर हैंडल पर बताया है कि दिसंबर 2018 में यूनिफाइड पेमेंट इंटरफेस (यूपीआई) के तहत ट्रांजैक्शन में 1 लाख करोड़ (620.17 मिलियन) से भी ज्यादा का इजाफा हुआ है.

जबकि इससे एक महीने पहले नवंबर में यह आंकड़ा 524.94 मिलियन था. 2018 का कुल ट्रांजैक्शन देखें तो यह 3 अरब के आसपास है.

0-25 प्रतिशत का इजाफा

ट्रांजैक्शन की वैल्यू निकालें तो यह और भी चौंकाने वाला है. ऐसा पहली बार हुआ है कि किसी एक महीने (दिसंबर) में 25 प्रतिशत का इजाफा हुआ. बिजनेस टुडे की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 2017 की तुलना में पिछले साल भीम यूपीआई के ट्रांजैक्शन का दायरा चार गुना बढ़ा है

जबकि वैल्यू में 7 गुना की वृद्धि दर्ज हुई. यूपीआई जिस दर से आगे बढ़ रहा है, उससे लगता है आने वाले वक्त में वह आईएमपीएस को पीछे छोड़ देगा. पिछले वित्तीय वर्ष में आईएमपीएस से 8,92,500 करोड़ रुपए का ट्रांजैक्शन हुआ था.

1
Back to top button