राजस्थान में हुआ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर घोटाला : केंद्रीय मंत्री

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राज्य सरकार को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर घेरा है

DELHI: केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राज्य सरकार को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर घेरा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में ऑक्सीजन कंसंट्रेटर घोटाला हुआ है। केंद्रीय मंत्री ने अपने एक बयान में कहा- नमक-मिर्च और एलईडी बनाने वाली कंपनियों से 32 हजार के कंसंट्रेटर 50 हजार में खरीदे गए।

केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने राज्य सरकार को भ्रष्टाचार के मुद्दे पर घेरा है। उन्होंने कहा कि राजस्थान में “ऑक्सीजन कंसंट्रेटर घोटाला” हुआ है। शनिवार को अपने बयान में शेखावत ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कोरोना की आड़ में “आपातकाल” के हालात पैदा किए और जनता की जान बचाने का हवाला देकर नीचे से ऊपर तक व्यवस्था में जमे सभी रसूखदारों ने अपने घर भरे।

नमक-मिर्च और एलईडी बनाने वाली कंपनियों से 32 हजार के कंसंट्रेटर 50 हजार में खरीदे गए। जीएसटी भी एडवांस में 5 प्रतिशत की जगह 12 प्रतिशत दिया गया। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि ऊपर से गुणवत्ता खराब बताई जा रही है। राजस्थान सरकार जनता के सामने आकर साफ करे कि यह घोटाला नहीं तो और क्या है? इसे क्या समझा जाए?

क्या सरकार की तरफ से सौदा करने वाले प्रतिनिधि इतने भोले हैं? नमक-मिर्च की कंपनियों से कंसंट्रेटर खरीदने का क्या तुक? गौरतलब है कि एक दिन पहले भी केंद्रीय मंत्री शेखावत ने राज्य सरकार पर ऑक्सीजन कंसंट्रेटरों की खरीद में हुई धांधली पर सवाल उठाए थे। उन्होंने यहां तक कहा था कि गहलोत जी को अब “आपदा में भी भ्रष्टाचार कैसे करें” शीर्षक से किताब लिखनी चाहिए।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button