छत्तीसगढ़

सिल्वर स्क्रीन पर पैड वूमन ने देखी पैड मैन

राजनांदगांव की 398 महिलाओं ने मंडी परिसर में देखी, अक्षय कुमार अभिनीत फिल्म, चुप्पी तोड़ो अभियान से जुड़ी हैं महिलाएं

राजनांदगांव : डोंगरगांव ब्लॉक में पीरिएड्स के प्रति जागरूकता को लेकर काम कर रही महिलाओं ने देखा कि अपने गाँव में इसकी जागरूकता फैलाने के लिए असली पैडमैन ने किस तरह काम किया था। आज मंडी स्थित सिल्वर स्क्रीन पर जिले के डोंगरगांव एवं राजनांदगांव ब्लॉक की बिहान की क्लस्टर रिसोर्स परसन एवं मितानिनों को यह फिल्म दिखाई गई। इसकी प्रतिक्रिया बड़ी दिलचस्प थी। इनमें से कई महिलाओं ने पहली बार सिनेमा की देहरी लांघी थी। डोंगरगांव की डेरहीन साहू ने बताया कि फिल्म देखने से मुझे नई ऊर्जा मिली है।

पैडमैन को अपने काम के लिए कितना संघर्ष करना पड़ा लेकिन आखिर में जब उन्हें सफलता मिली तो कितना उन्हें कितना आनंद मिला। इस फिल्म को देखकर जाना कि अच्छे काम को करने से कितना बड़ा संतोष जीवन में मिलता है। उन्होंने बताया कि इसके पहले कभी भी पीरिएड्स में कपड़े के दुष्प्रभावों के बारे में किसी ने नहीं बताया था। किसी भी महिला के लिए यह फिल्म देखना बहुत उपयोगी अनुभव होगा। जीवन की छोटी-छोटी बातें जिन्हें हम ध्यान नहीं देते, वे हमारे कितनी जरूरी होती है यह फिल्म देखकर हमने जाना। डोंगरगांव ब्लॉक की ही शमिता ने बताया कि फिल्म बहुत अच्छी लगी।

अब वे अपने गाँव की अन्य महिलाओं को भी इसे देखने के लिए प्रेरित करेंगी। हमें बताया गया है कि हर गाँव में यह फिल्म दिखायी जाएगी। यह फिल्म इतनी अच्छी है कि जब यह फिल्म हमारी गाँव में दिखाई जाएगी तो एक बार मैं यह फिल्म जरूर देखूँगी। इस संबंध में अधिक जानकारी देते हुए चुप्पी तोड़ी अभियान की नोडल अधिकारी प्रियंका सेठी ने बताया कि कलेक्टर भीम सिंह के निर्देश पर पैडमैन फिल्म दिखाने के लिए सभी गाँवों में शेड्यूल तैयार किया गया है। जिसके माध्यम से हर गाँव में यह फिल्म दिखाई जानी है। कार्यक्रम को स्वच्छ भारत एवं एनआरएलएम (बिहान) की टीम ने संचालित किया। इस दौरान एनआरएलएम की क्षेत्रीय समन्वय नीति शर्मा भी मौजूद थीं।

मुरूगनाथन और अक्षय कुमार ने की थी पहल की प्रशंसा-

जिला प्रशासन द्वारा पैडमैन फिल्म को गाँव के हर पंचायत में दिखाये जाने के निर्णय की प्रशंसा मुरूगनाथन ने भी ट्विटर के माध्यम से की थी। पैडमैन फिल्म मुरूगनाथन के जीवन पर आधारित है। जिन्होंने पीरिएड्स की भ्रांतियों को दूर करने की दिशा में बड़ा काम किया है। इस पर ही प्रेरणा लेकर अक्षय कुमार ने पैडमैन फिल्म बनाई। जिला प्रशासन द्वारा ग्राम पंचायतों में पैडमैन दिखाये जाने एवं चुप्पी तोड़ो अभियान की जानकारी जब ट्विटर के माध्यम से मुरूगनाथन को मिली तो उन्होंने इस पहल की प्रशंसा की। इसके बाद अभिनेता अक्षय कुमार और ट्वींकल खन्ना ने राजनांदगांव जिला प्रशासन की इस पहल की प्रशंसा की।

Tags
Back to top button