जायसी के अलावा इस इत‍िहासकार के उपन्‍यास पर बनी है पद्मावत, भंसाली ने खरीदे थे राइट्स

भंसाली ने दावा क‍िया है क‍ि पद्मावत की कहानी जायसी के महाकाव्य पर आधार‍ित है, लेक‍िन ये कहानी दर्जनों पुरस्‍कार जीत चुके इस इत‍िहासकार के उपन्‍यास से मेल खाती है।

मुंबई.

पद्मावत में दीप‍िका पादुकोण रानी पद्मावती की भूम‍िका न‍िभा रही हैं, जबक‍ि रणवीर स‍िंह अलाउद्दीन ख‍िलजी की भूम‍िका में हैं। अभ‍िनेता शाह‍िद कपूर राजा रतन स‍िंह के रोल में हैं।

संजय लीला भंसाली ने दावा क‍िया है क‍ि इस फ‍िल्‍म की कहानी मलिक मोहम्मद जायसी के महाकाव्य पद्मावत पर आधार‍ित है, लेक‍िन एक हकीकत ये भी है क‍ि इस फ‍िल्‍म की कहानी इत‍िहासकार तेजपाल स‍िंह धामा के उपन्‍यास ‘अग्‍न‍ि की लपटें’ से मेल खाती है। इस बात का खुलासा खुद तेजपाल ने क‍िया है।

अब तक 16 ऐत‍िहास‍िक उपन्‍यास ल‍िख चुके तेजपाल उत्‍तर प्रदेश के बागपत के खेकडा के रहने वाले हैं। इस उपन्‍यास में उन्‍होंने रानी पद्मावती के बचपन से लेकर जौहर तक के वर्णन को बरसों शोध के बाद ल‍िखा है।

वो बताते हैं क‍ि फ‍िल्‍म पद्मावत के न‍िर्माण के दौरान संजय लीला भंसाली को उनके उपन्‍यास के बारे में जानकारी हुई तो उन्‍होंने तेजपाल धामा से मुलाकात की।

धामा के मुताब‍िक भंसाली को उपन्‍यास काफी पसंद आया और उन्‍होंने एक साल पहले इसके राइट्स उनसे खरीद ल‍िए। तेजपाल ने ये भी बताया क‍ि भजन सम्राट अनूप जलोटा पहले पद्मावती पर फ‍िल्‍म बनाना चाहते थे, उन्‍होंने भी उपन्‍यास के राइट्स खरीदने की बात कही थी, लेक‍िन बात आगे नहीं बढ़ी।

बौद्ध भ‍िक्षु राघव चाहता था रानी पद्मावती से व‍िवाह करना

धामा ने उपन्‍यास में एक बौद्ध भ‍िक्षु राघव का भी ज‍िक्र क‍िया है उनके मुताब‍िक, बौद्ध भ‍िक्षु राघव पद्म‍िनी से व‍िवाह करना चाहता था। इस संदर्भ में उसने रानी पद्म‍िनी के समझ शादी का प्रस्‍ताव भी रखा था।

रानी ने उसके प्रस्‍ताव को अस्‍वीकार कर द‍िया था इस बात से बौद्ध भ‍िक्षु रुष्‍ट हो गया था और यही वजह थी क‍ि बाद में वह अलाउद्दीन ख‍िलजी से जाकर म‍िल गया था।

बता दें क‍ि इसी उपन्‍यास के मुताब‍िक, रानी पद्मावती राजा रतन स‍िंह की दूसरी पत्‍नी थीं। रोचक तथ्‍य ये है क‍ि पद्म‍िनी से राजा रतन स‍िंह ने अपनी पहली पत्‍नी के कहने पर व‍िवाह क‍िया था।

राजा रतन स‍िंह की पहली नागमती ने एक बार राजा से दूसरा व‍िवाह करने के ल‍िए कहा था। राजा ने इस बात से इनकार कर द‍िया तो रानी ज‍िद कर बैठीं। इसके बाद राजा रतन स‍िंह ने रानी नागमती की बात रखने के ल‍िए पद्म‍िनी के स्‍वयंवर में भाग ल‍िया और उन्‍हें अपनी पत्‍नी बनाकर ले आए।

पहली पत्‍नी के कहने पर रतन स‍िंह ने की थी पद्मावती से शादी

धामा के उपन्‍यास के मुताब‍िक, रानी पद्मावती राजा रतन स‍िंह की दूसरी पत्‍नी थीं। रोचक तथ्‍य ये है क‍ि पद्म‍िनी से राजा रतन स‍िंह ने अपनी पहली पत्‍नी के कहने पर व‍िवाह क‍िया था।

राजा रतन स‍िंह की पहली नागमती ने एक बार राजा से दूसरा व‍िवाह करने के ल‍िए कहा था। राजा ने इस बात से इनकार कर द‍िया तो रानी ज‍िद कर बैठीं। इसके बाद राजा रतन स‍िंह ने रानी नागमती की बात रखने के ल‍िए पद्म‍िनी के स्‍वयंवर में भाग ल‍िया और उन्‍हें अपनी पत्‍नी बनाकर ले आए।

धामा को म‍िल चुके हैं कई पुरस्‍कार

उपन्‍यासकार तेजपाल धामा ने अब तक 16 ऐत‍िहास‍िक उपन्‍यास, 5 काव्‍य संग्रह और एक महाकाव्‍य ल‍िखा है। हमारी व‍िरासत, पृथ्‍वीराज चौहान- एक पराज‍ित व‍िजेता उनके बेस्‍ट सेलर उपन्‍यास हैं।

राजस्‍थान की दस प्रमुख रान‍ियों पर भी धामा ने एक खोजपरक उपन्‍यासों की श्रृंखला ल‍िखी है। अपने कार्य के ल‍िए धामा को वीरांगना लक्ष्‍मीबाई गौरव सम्‍मान, रेड एंड व्‍हाइट गोल्‍ड अवॉर्ड, दीनदयाल उपाध्‍याय सम्‍मान, साह‍ित्‍यश्री सम्‍मान, देवगुरु बृहस्‍पत‍ि सम्‍मान, इम्‍वा अवॉर्ड और संस्कृति मंत्रालय भारत सरकार का संस्‍कृत‍ि मनीषी सम्‍मान म‍िल चुका है।

1
Back to top button