बॉलीवुडमनोरंजन

पद्मावत केवल फिल्म नहीं एक जर्नी है, जो हमेशा याद रहेगी: दीपिका

दीपिका पादुकोण ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि महारानी पद्मावती का रोल उनके जीवन का सबसे मुश्किल रोल रहा है. फिल्म में पद्मावती सिर्फ तलवार चलाने और रणभूमि में लड़ाई करने वाली योद्धा नही थीं.

दीपिका पादुकोण ने इंटरव्यू के दौरान बताया कि महारानी पद्मावती का रोल उनके जीवन का सबसे मुश्किल रोल रहा है. फिल्म में पद्मावती सिर्फ तलवार चलाने और रणभूमि में लड़ाई करने वाली योद्धा नही थीं. उनका ये किरदार बाजीराव मस्तानी के किरदार से काफी भिन्न था. महारानी पद्मावती बल के साथ-साथ आत्मीयता और स्वभाव से एक कुशल योद्धा थीं.

फिल्म पद्मावत को रिलीज हुए करीब दो महीना हो चुका है. ये मूवी काफी विवादों के बाद रिलीज हुई और इसने बॉक्स ऑफिस पर धमाल मचा दिया. हाल ही में एक इंटरव्यू के दौरान दीपिका ने अपने किरदार के बारे में दिलचस्प जानकारी शेयर की.

दीपिका के अनुसार, शरीर से योद्धा बनने के लिए केवल तलवारबाजियां सीखनी पड़ती है, जबकि आत्मा से योद्धा बनने के लिए उस लहजे को पूरी तरह से महसूस करना पड़ता है. फिल्म में ऐसा किरदार निभाना इतना आसान नहीं होता.

दीपिका ने कहा कि पद्मावत उनके लिए केवल एक फिल्म ही नहीं थी, बल्कि एक जर्नी भी थी जिसकी याद उनके साथ हमेशा रहेगी. पद्मावत की बात करें तो इसे देश ही नहीं, बल्कि दुनियाभर में काफी पसंद किया गया. फिल्म ने कमाई के मामले में 300 करोड़ का आंकड़ा पार किया और साल की अब तक की सबसे बड़ी ब्लॉकबस्टर साबित हुई.

दीपिका ने आगे बताया कि फिल्म में जौहर के दौरान का किरदार शूट करना बहुत मुश्किल था. इस सीन का उन पर गहरा असर पड़ा. साथ ही उन्होंने संजय लीला भंसाली से फिल्म के क्लाइमेक्स सीन के दौरान जौहर करते समय जो काॅस्ट्यूम पहनी थी उसे याद के तौर पर अपने पास रखने की गुजारिश की.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *