पाक पीएम : शांति की इच्छा को हमारी कमजोरी न समझें

पीएम नेवल अकादमी में 108वें मिडशिपमेन और 17वें शार्ट सर्विस कमीशन के पासिंग आउट परेड समारोह में बोल रहे थे

पाक पीएम : शांति की इच्छा को हमारी कमजोरी न समझें

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री शाहिद खाकान अब्बासी ने देश के समुद्री क्षेत्र की रक्षा को ‘अभेद्य’ बनाने का वादा किया. उन्होंने कहा कि पाकिस्तान शांतिपूर्ण सह-अस्तित्व में विश्वास रखता है लेकिन उसकी शांति की इस इच्छा को उसकी कमजोरी नहीं समझा जाना चाहिए.

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री यहां कराची में पाकिस्तान नेवल अकादमी में 108वें मिडशिपमेन और 17वें शार्ट सर्विस कमीशन के पासिंग आउट परेड समारोह में बोल रहे थे.

उन्होंने कहा कि देश की समुद्री रक्षा को अभेद्य बानाने के वास्ते पाकिस्तानी नौसेना को सभी प्रकार के संसाधन मुहैया कराने और ब्लू इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए सरकार संकल्पबद्ध है.

आजाद कश्मीर के विचार को पाक का समर्थन नहीं

उन्होंने कहा, ‘पाकिस्तानी नौसेना अपनी स्वदेशी क्षमताओं को तेजी से विकसित कर रही है.’ अब्बासी ने कहा, ‘पाकिस्तान शांतपूर्ण सह-अस्तित्व में विश्वास करता है, लेकिन उसकी शांति की इस इच्छा को उसकी कमजोरी नहीं समझा जाना चाहिए.

इससे पहले शाहिद खाकान अब्बासी ने कहा था कि ‘आजाद कश्मीर’ के विचार को खारिज किया था. उन्होंने कहा था कि इस मांग के लिए कोई समर्थन नहीं है और ये ‘यथार्थ’ पर आधारित नहीं है.

लंदन स्कूल ऑफ इकनॉमिक्स के दक्षिण एशिया केंद्र में आयोजित ‘पाकिस्तान का भविष्य 2017’ विषय पर एक सम्मेलन के दौरान वो ये बात कह रहे थे.

advt
Back to top button