पाक PM इमरान खान को छोड़ना पड़ सकता है अपना पद

लाहौर हाई कोर्ट में होगी सुनवाई

लाहौर। सोमवार को लाहौर उच्च न्यायालय में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान को लेकर सुनवाई होने वाली है। इमरान खान पर लाहौर हाई कोर्ट में याचिका लगाई गई है। इस याचिका में इमरान पर ईमानदार और धर्मी नहीं होने का आरोप लगाया गया है। याची का दावा है कि इमरान साल 2018 में हुए आम चुनावों के दौरान अपने नामांकन पत्र में एक और महिला साथी के साथ कथित तौर पर हुई बेटी के पितृत्व के बारे में छुपाया था।

अगर ये आरोप सही साबित हो गए तो कोर्ट इमरान को अयोग्य भी ठहरा सकता है जिसके चलते उन्हें अपनी पीएम की कुर्सी भी गवानी पड़ सकती है।
उच्च न्यायालय ने शनिवार को संविधान के अनुच्छेद 62 और 63 के प्रावधानों का उल्लंघन करने के मामले में इमरान को अयोग्य ठहराने वाली याचिका पर सुनवाई के लिए मुहर लगा दी है, अब सोमवार को उच्च न्यायालय इस मामले पर सुनवाई करेगा।

अनुच्छेद 62 और 63 के प्रावधानों के मुताबिक संसद सदस्य को अपनी सदस्यता से पहले अपने आप को ईमानदार और धर्मी होने की सूचना देनी पड़ती है।

11 मार्च को सुनवाई की जाने वाली याचिका में दावा किया गया है कि खान ने 2018 के आम चुनावों के लिए अपने नामांकन पत्र में टायरियन जेड खान व्हाइट के साथ हुई कथित बेटी के पिता के संबंधों के विषय में छुपाया था।

Back to top button