अंतर्राष्ट्रीय

पाक SC ने दी परवेज को चेतावनी, कहा – स्वदेश वापस नहीं लौटा तो ‘खींच’ कर लायेंगे

पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ पर राजद्रोह का केस लगा हुआ है

इस्लामाबाद :

2007 में संविधान को निलंबित करने के आरोप में 75 वर्षीय पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ पर राजद्रोह का केस लगा हुआ है । जिसके बाद से पाक के पूर्व सैन्य प्रमुख 2016 में इलाज के लिए दुबई गए थे, तब से नहीं लौटे हैं।

पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व राष्ट्रपति परवेज मुशर्रफ को चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर वह जल्द स्वदेश नहीं लौटते हैं तो उन्हें ‘खींच’ कर लाया जाएगा। चीफ जस्टिस साकिब निसार ने कहा, ‘अगर मुशर्रफ स्वेच्छा से लौटते हैं तो उन्हें सम्मान दिया जाएगा,

लेकिन ऐसा नहीं होता है तो उन्हें वापस लाने का ऐसा तरीका अपनाया जाएगा, जो काफी अपमानजनक होगा।’ 75 वर्षीय मुशर्रफ पर 2007 में संविधान को निलंबित करने के आरोप में राजद्रोह का केस चल रहा है।

‘हिम्मत दिखाएं पूर्व राष्ट्रपति’

चीफ जस्टिस ने कहा कि मुशर्रफ खुद को जांबाज कमांडो कहते हैं तो उन्हें कुछ हिम्मत दिखानी चाहिए। क्यों जांबाज कमांडो को देश लौटने में डर लग रहा है।’ इससे पहले मुशर्रफ के वकील ने कोर्ट से पूछा कि लाल मस्जिद मामले में उन पर कोई केस नहीं है।

ऐसे में यह जानना आवश्यक है कि उन पर आखिर किस मामले में केस दर्ज है। इस पर निसार ने कहा कि उन पर राजद्रोह का मामला चल रहा है, लिहाजा उन्हें अदालत में पेश होना चाहिए।

जब तक जिंदा हैं, पेश होना होगा।

निसार ने कहा कि मैंने पहले भी आपको आश्वस्त किया था कि अगर मुशर्रफ पाक लौटते हैं तो उन्हें सुरक्षा दी जाएगी। उनका पूरा इलाज कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि सर्वोच्च अदालत उन्हें फिर भरोसा देती है कि उन्हें सुरक्षा प्रदान की जाएगी।

उन्होंने कहा कि जब तक मुशर्रफ जिंदा हैं उनका यह कर्तव्य है कि वह अदालत में पेश हों। यह कतई बर्दाश्त नहीं किया जा सकता कि जिसके खिलाफ कोर्ट में केस चल रहा है वह स्वदेश नहीं लौट रहा है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान लौटने तक मुशर्रफ को गिरफ्तार नहीं किया जाएगा। चाहे केस का नतीजा कुछ भी हो।

Summary
Review Date
Reviewed Item
पाक SC ने दी परवेज को चेतावनी, कहा - स्वदेश वापस नहीं लौटा तो ‘खींच’ कर लायेंगे
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags