पाकिस्तानी सेना ने वीडियो जारी कर किया दावा- हमने उड़ा दी भारत की चौकी, मारे पांच सैनिक

पाकिस्तानी सेना ने गुरुवार (15 फरवरी) को दावा किया कि उसने नियंत्रण रेखा पर भारत की तरफ से नागरिकों का निशाना बनाए जाने पर एक भारतीय चौकी को उड़ा दिया, जिसमें पांच भारतीय जवान मारे गए।

पाकिस्तानी सेना ने गुरुवार (15 फरवरी) को दावा किया कि उसने नियंत्रण रेखा पर भारत की तरफ से नागरिकों को निशाना बनाए जाने पर एक भारतीय चौकी को उड़ा दिया, जिसमें पांच भारतीय जवान मारे गए।

पाकिस्तानी सेना के इंटर सर्विस पब्लिक रिलेशंस (आईएसपीआर) के महानिदेशक मेजर जनरल आसिफ गफूर ने भारतीय चौकी पर हमला करने का एक वीडियो ट्वीट किया है।

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

मेजर गफूर ने ट्वीट में लिखा- ”नियंत्रण रेखा पर टाट्टा पानी (हॉट स्प्रिंग) सेक्टर में आम नागरिकों को निशाना बनाने वाली भारतीय सेना की चौकी को पाकिस्तानी सैनिकों के द्वारा उड़ा दिया गया, पांच भारतीय सैनिक मारे गए, कई घायल हैं। निर्दोष नागरिकों के खिलाफ भारतीय आतंकवाद का मुनासिब तौर पर जवाब दिया जाएगा।”

मेजर गफूर द्वारा ट्वीट किए गए 57 सेकेंड के वीडियो में जंगल में से धुआं उठता दिखाई देता है। पाकिस्तान के अखबार डॉन की खबर के मुताबिक स्थानीय पाकिस्तानी अधिकारियों की तरफ से बताया गया है कि भारतीय चौकी को उड़ाने का फैसला उस घटना के कुछ घंटों बाद लिया गया जब पीओके में सीमा से लगे बेहद संवेदनशील गांव में भारतीय जवानों के द्वारा एक स्कूल वैन पर हमला कर उसके ड्राइवर को मार दिया गया।

हजीरा सिकंदर के असिस्टेंट कमिश्नर हयात ने फोन पर डॉन को बताया कि स्कूल की गाड़ी में चार बच्चे सवार थे, गाड़ी बच्चों को लेकर मंढोल से धरमसाल स्थित उनके घर लेकर आ रही थी, तभी करीब डेढ़ बजे भारतीय सैनकों ने उस पर हमला कर दिया।

हयात ने बताया कि भारतीय सैनिकों के हमले में जो ड्राइवर मारा गया था उसकी पहचान मोहम्मद सरफराज के नाम से हुई, उसने मौके पर ही दम तोड़ दिया था। उन्होंने कहा कि गाड़ी में सवार बच्चे किसी तरह बच गए थे।

पाकिस्तानी अखबार की खबर में कहा गया है कि यह पहला मौका नहीं जब भारतीय सैनिकों ने मासूम पाकिस्तानी नागरिकों को निशाना बनाया हो।

मेजर गफूर ने कहा कि नियंत्रण रेखा के पर लगातार पाकिस्तानी नागरिकों को आतंकित करना भारत का अनैतिक और अनौपचारिक दृष्टिकोण है। पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय ने भारत के उप उच्चायुक्त जेपी सिंह को स्कूल की गाड़ी पर हमले और युद्ध विराम उल्लंघन के लिए समन जारी किया है।

new jindal advt tree advt
Back to top button