अंतर्राष्ट्रीय

पाक की सूफी दरगाह में फिदायीन हमला, 18 की मौत, 20 घायल

पाकिस्तान के बलूचिस्तान प्रांत की एक सूफी दरगाह पर बृहस्पतिवार को हुए एक फिदायीन हमले में एक पुलिसकर्मी समेत 18 लोगों की मौत हो गई और 20 से अधिक घायल हो गए। आतंकी संगठन आईएस ने इस हमले की जिम्मेदारी ली है।

उपायुक्त असादुल्लाह काकर ने बताया कि प्रांत के झल मग्सी जिले की मशहूर दरगाह फतेहपुर पर एक आतंकी ने घुसने की कोशिश की और पुलिस द्वारा रोके जाने पर उसने खुद को उड़ा दिया।

अधिकारियों ने बताया कि घटना स्थल से सभी शव निकाले जा चुके हैं। घायलों में कुच की हालत गंभीर बताई गई है। जिससे मरने वालों की संख्या बढ़ने की आशंका जताई गई है। बृहस्पतिवार होने के कारण दरगाह पर श्रद्धालुओं की भारी भीड़ थी। दरगाह परिसर में पारंपरिक धमाल नृत्य का आयोजन किया जा रहा था।

बलूचिस्तान के गृह मंत्री मीर सरफराज बुग्ती ने कहा कि अब तक की जांच से पता चला है कि यह एक फिदायीन हमला था। जांच जारी है और घायलों को जिला अस्पतालों में भर्ती कराया गया है। अभी तक किसी भी आतंकी संगठन ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन माना जा रहा है कि इसके पीछे तालिबान हो सकता है क्योंकि यह आतंकी संगठन सूफी दरगाहों को निशाना बनाता रहा है। गौरतलब है कि पिछले साल बलूचिस्तान में ही शाह नूरानी दरगाह पर आतंकियों ने हमला बोला था। जिसमें 52 लोगों की मौत हो गई थी और 102 घायल हुए थे।

Back to top button