पाकिस्तान बोला- हमारे बिना सफल नहीं होगी कश्मीर पर बातचीत

जम्मू कश्मीर में लगभग तीस साल से चल रही अस्थिरता को खत्म करने के लिए बीजेपी सरकार भी यूपीए की तरह बातचीत का रास्ता अपनाना चाहती है, लेकिन केंद्र सरकार के इस फैसले से पाकिस्तान को आपत्ति है।

उसका कहना है कि जबतक ‘तीसरी पार्टी’ को साथ बैठाकर बात नहीं की जाएगी तबतक कुछ ठीक नहीं होगा। यहां पाकिस्तान खुद को तीसरी पार्टी बता रहा है।

भारत द्वारा कश्मीर के सभी पक्षों से बातचीत के लिए पूर्व आईबी चीफ दिनेश्वर शर्मा को चुना गया है।

इस खबर पर पाकिस्तान के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि बातचीत के लिए चुने गए मापदंड ठीक नहीं हैं और अगर किसी बातचीत को सफल बनाना है तो सभी मुख्य पार्टियों से बातचीत होनी चाहिए जिसमें भारत, पाकिस्तान और कश्मीरी लोग तीनों शामिल हों।

पाकिस्तानी प्रवक्ता ने यह भी दावा किया कि हुर्रियत नेताओं को शामिल किए बिना इस बातचीत का कोई मतलब नहीं रह जाएगा, उन्होंने भारत पर जम्मू कश्मीर में आतंक फैलने का आरोप भी लगाया।

वहीं अपने वार्ताकार नियुक्त किए जाने पर दिनेश्वर शर्मा ने कहा था कि वह अगले हफ्ते कश्मीर जाएंगे और तय करेंगे कि किन-किन पक्षों से बात करनी है। उन्होंने कहा कि वहां के हालात जानने के बाद ही वह वार्ता प्रक्रिया को आगे बढ़ाएंगे।

Back to top button