राष्ट्रीय

रिहाई से पहले पाकिस्‍तानी अधिकारियों ने कैमरे पर अभिनंदन से दर्ज कराई बयान

रात 9 बजे के बाद भारत को सौंपा गया अभिनंदन

लाहौर: रिहाई से पहले पाकिस्‍तानी अधिकारियों ने भारतीय वायुसेना के विंग कमांडर पायलट अभिनंदन वर्थमान से कैमरे पर बयान दर्ज कराई, जिसके बाद ही उन्हे भारत को सौपा गया। इसलिए पायलट अटारी-वाघा बॉर्डर पर भारत को देर से सौंपा.

दोपहर करीब 4 बजे पाकिस्‍तानी अधिकारी उन्‍हें लेकर वाघा बॉर्डर पहुंच गए थे. इसके बावजूद उन्‍हें रात 9 बजे के बाद भारत को सौंपा गया. ऐसे में अब इस देरी की वजह सामने आ गई है.

हालांकि यह स्पष्ट नहीं है कि उन्हें दबाव में कैमरे के सामने बयान देने को कहा गया या नहीं. इस वीडियो में कई कट हैं जो संकेत देते हैं कि इसे परोक्ष रूप से पाकिस्तानी रुख के अनुरूप करने के लिए इसमें बहुत काट-छांट की गई.

भारतीय वायुसेना का कहना है कि अभिनंदन ने पाकिस्तान का एफ-16 लड़ाकू विमान मार गिराया लेकिन उनकी रिहाई से पहले रिकार्ड वीडियो संदेश में इसका कोई उल्लेख नहीं है. पाकिस्तान सरकार ने स्थानीय समयानुसार रात साढ़े आठ बजे पायलट का वीडियो संदेश स्थानीय मीडिया को जारी किया. इस वीडियो में अभिनंदन ने बताया कि उसे कैसे पकड़ा गया.

Tags
Back to top button