आतंकवादी संगठनों को सहयोग देना ही पाकिस्तान की नीति- शाहरानी

झुंझुनूं: अफगानिस्तान के पूर्व खान, पेट्रोलियम, वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री वाहिदुल्लाह शाहरानी ने आतंकवादी संगठनों को सहयोग देना ही पाकिस्तान की नीति बताते हुए कहा है कि भारत और अफगानिस्तान के मजबूत रिश्ते ही आतंकवाद से मुकाबले करेंगे।

झुंझुनूं दौरे पर आए शाहरानी ने मीडिया से बातचीत करते हुए कहा कि भारत और अफगानिस्तान दोनों ही पाकिस्तान द्वारा प्रायोजित आतंकवाद से पीड़ित है। दोनों देश के मजबूत रिश्ते ही इससे मुकाबला करेंगे। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान के लोगों ने कई बार कई सर्वे में खुलकर बताया है कि अफगानिस्तान के बाद यदि उनका कोई पसंदीदा देश है तो वह भारत ही हैं। उन्होंने कहा कि भारत ने हर तरह से अफगानिस्तान की हर वक्त पर मदद की है, जिसके लिए अफगानी लोग भारत को पसंद करते है।

इरान से भारत लाई जाने वाली एनर्जी पाइप लाइन पर उन्होंने कहा कि जब वह पेट्रोलियम मंत्री थे, उस वक्त से यह प्रोजेक्ट चल रहा है। उन्हें इस बात की खुशी है कि जब यह प्रोजेक्ट पूरा होगा तो भारत के साथ अफगानिस्तान के व्यापारिक संबंध भी मजबूत होंगे। करीब आठ सौ किलोमीटर की पाइप लाइन अफगानिस्तान होकर गुजरेगी। पाकिस्तान में बनने जा रही नई सरकार पर उन्होंने कहा कि सरकार बनने के बाद उसकी क्या नीति रहती है। क्योंकि अभी तक तो पाकिस्तान की नीति आतंकवादी संगठनों को सहयोग देकर भारत और अफगानिस्तान में आतंकवादी गतिविधियां कराना ही रहा है।

शाहरानी ने एक सवाल के जवाब में कहा कि अमरीका द्वारा अफगानिस्तान से सेना हटाने को लेकर अभी कोई निर्णय नहीं हुआ है। दो हफ्ते पहले ही काबुल में जब अमरीका के अधिकारियों के साथ बैठक हुई थी उसमें वह मौजूद थे। अमरीका अफगानिस्तान को पूरा सहयोग देगा।

new jindal advt tree advt
Back to top button