मध्यप्रदेश

ब्राह्मण ने मार दी पड़ोसी की गाय, गांववालों ने कहा- गंगा नहाओ, भोज खिलाओ, छुट्टी पाओ

मध्य प्रदेश में ऊंची जाति के एक शख्स को एक गाय मारने के बाद पंचायत ने उसे गंगा नहाकर पाप धोने और गांव के लोगों के लिए भोज आयोजित कराने की सजा सुनाई है। मामला टीकमगढ़ जिले के दुम्बर गांव हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक यहां पर एक ब्राह्मण शख्स मोहन तिवारी ने पिछड़ी जाति के एक शख्स की गाय को गुस्से में आकर मार दिया।

मोहन तिवारी ने शंकर अहीरवार की गाय को गुस्से में आकर सिर्फ इसलिए मार दिया क्योंकि वह उसके खेत में कई बार दाखिल होकर उसे खराब कर चुकी थी। तिवारी ने कथित तौर पर गाय पर किसी धारदार हथियार से हमला किया था।

घटना की खबर मिलने पर तुरंत ही ब्राह्मण समाज ने पंचायत की और तिवारी के लिए गंगा नहाने, भोज खिलाने की सजा का फरमान जारी किया गया।

वहीं इंस्पेक्टर कैलाश बाबू आर्य ने बताया कि शंकर अहीरवार ने इस मामले की शिकायत पुलिस में बजरंग दल कार्यकर्ताओं के दबाव डालने के बाद दर्ज कराई। रिपोर्ट्स के मुताबिक फैसला हो जाने के बाद शंकर पुलिस में शिकायत दर्ज कराने का इच्छुक नहीं था।

आर्य ने आगे बताया कि गाय का पोस्टमॉर्टम कराने के बाद यह पता चला कि उसकी मौत घायल होने से हुई थी। इसके बाद ही तिवारी के खिलाफ मध्य प्रदेश गौ-वध प्रतिबंध कानून (Madhya Pradesh Prohibition of Cow Slaughter Act) के तहत मामला दर्ज किया गया।

Tags
Back to top button