पंड्या ने किया खुद को घर में कैद, संक्रांति पर पतंग तक नही उड़ाई

महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक कमेंट्स किए थे जिसे लेकर सोशल मीडिया पर उनकी जमकर खिंचाई हुई थी।

टीवी शो ‘कॉफी विद करण’ में विवादित कमेंट्स के कारण निलंबित क्रिकेटर हार्दिक पांड्या इन दिनों घर से बाहर नहीं निकल रहे हैं और उन्होंने मकर संक्रांति पर पतंग भी नहीं उड़ाई।

इस बात का खुलासा हार्दिक के पिता हिमांशु पांड्या ने किया। उल्लेखनीय है कि हार्दिक पांड्या और केएल राहुल ने करण जौहर के शो ‘कॉफी विद करण’ में महिलाओं को लेकर आपत्तिजनक कमेंट्स किए थे जिसे लेकर सोशल मीडिया पर उनकी जमकर खिंचाई हुई थी।

इनके खिलाफ माहौल बनता देख बीसीसीआई ने इन्हें निलंबित कर दिया था और ऑस्ट्रेलिया दौरे के बीच में से स्वदेश भेज दिया था।

पिता हिमांशु ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया से लौटने के बाद हार्दिक ने खुद को एक तरह से घर के अंदर बंद कर लिया है, वो किसी से बात भी नहीं कर रहा है और किसी से मुलाकात भी नहीं कर रहा है।

उसने मकर संक्रांति पर पतंग भी नहीं उड़ाई। हार्दिक ने भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच मंगलवार को एडिलेड मे हुए दूसरे वनडे को भी घर में अकेले देखा।

हिमांशु ने कहा कि बेटे हार्दिक ने वादा किया है कि वो आगे से ऐसी कोई बात नहीं करेगा जिससे किसी की भावनाएं आहत हो।

परिवार में भी अब इस बारे में कोई बात नहीं की जाएगी क्योंकि इससे हार्दिक को दुख होगा। पांड्या परिवार अब बीसीसीआई के फैसले का इंतजार कर रहा है।

बीसीसीआई ने पांड्या और राहुल को ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड दौरे से निलंबित किया है और एक समिति उनके बारे में फैसला करेगी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार इन दोनों क्रिकेटरों का विश्व कप में खेलना भी संदिग्ध माना जा रहा है। वैसे इन क्रिकेटरों को दी गई सजा को लेकर बीसीसीआई में दो भागों में बंट गया है।

कुछ लोग सख्त कार्रवाई चाहते हैं जबकि कुछ लोगों के अनुसार इन्होंने माफी मांग ली है तो मामला यही खत्म कर देना चाहिए।

1
Back to top button