उद्धव से ‘पंगा’, कंगना के खिलाफ मुंबई में FIR, गवर्नर भेजेंगे केंद्र को रिपोर्ट

कंगना रनौत से हमले से शिवसेना तिलमिला गई है और वह एक्ट्रेस को उसी के अंदाज में जवाब दे रही है. कंगना ने कहा था कि 9 सितंबर को आ रही हूं मुंबई, क्या उखाड़ लोगे. इसके बाद बीएमसी ने कंगना के दफ्तर में तोड़फोड़ की और शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा कि 'उखाड़ दिया.'

बॉलीवुड एक्ट्रेस कंगना रनौत और महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बीच लड़ाई बढ़ती जा रही है. कंगना लगातार उद्धव और शिवसेना पर हमले कर रही हैं. बीएमसी ने कंगना के दफ्तर पर बुलडोजर चलाया लेकिन इससे कंगना के हमले की धार कम नहीं हुई है. कंगना ने आज उद्धव को वंशवाद का नमूना तो शिवसेना को सोनिया सेना तक कह डाला.

कंगना रनौत से हमले से शिवसेना तिलमिला गई है और वह एक्ट्रेस को उसी के अंदाज में जवाब दे रही है. कंगना ने कहा था कि 9 सितंबर को आ रही हूं मुंबई, क्या उखाड़ लोगे. इसके बाद बीएमसी ने कंगना के दफ्तर में तोड़फोड़ की और शिवसेना के मुखपत्र सामना में लिखा कि ‘उखाड़ दिया.’

कंगना के खिलाफ मुकदमा दर्ज
सीएम उद्धव ठाकरे से पंगा लेना कंगना रनौत को महंगा पड़ता दिखाई दे रहा है. विक्रोली पुलिस स्टेशन में कंगना के खिलाफ शिकायत की गई है. शिकायतकर्ता ने कहा है कि कंगना ने सीएम उद्धव ठाकरे के खिलाफ अपमानजनक भाषा का इस्तेमाल किया. इसके बाद कंगना के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर ली गई है.

कंगना मसले पर राज्यपाल कोश्यारी एक्टिव
इस मामले में अब महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी एक्टिव हो गए हैं और उन्होंने मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के मुख्य सलाहकार अजेय मेहता से चर्चा की. राज्यपाल ने कार्रवाई पर नाराजगी जताई. अजेय मेहता ने कहा कि वो सीएम उद्धव को जानकारी दे देंगे. वहीं, राज्यपाल कोश्यारी इस विषय पर केंद्र को एक रिपोर्ट देने वाले हैं.

कंगना ने उद्धव पर साधा निशाना
कंगना रनौत ने गुरुवार को ट्वीट करके कहा, ‘तुम्हारे पिताजी के अच्छे कर्म तुम्हें दौलत तो दे सकते हैं मगर सम्मान तुम्हें खुद कमाना पड़ता है, मेरा मुंह बंद करोगे मगर मेरी आवाज मेरे बाद सौ फिर लाखों में गूंजेगी, कितने मुंह बंद करोगे? कितनी आवाज़ें दबाओगे? कब तक सच्चाई से भागोगे तुम कुछ नहीं हों सिर्फ वंशवाद का एक नमूना हो.’

कंगना रनौत के तेवर ईट का जवाब पत्थर से देने का दिख रहा. वो मुंबई में रहती हैं. एक्टिंग उनका पेशा है. बॉलीवुड से उन्हें रोजी-रोटी मिलती है. जिस मुंबई पर शिवसेना का सियासी वर्चस्व है, वहां उनका घर-दफ्तर सबकुछ है, लेकिन कंगना डट गई हैं और एक के बाद एक उद्धव सरकार पर हमले कर रही हैं.

कंगना के समर्थन में बीजेपी-आरएसएस
शिवसेना और कंगना रनौत की इस लड़ाई में अब आरएसएस भी कूद पड़ा है. आरएसएस के अखिल भारतीय सह संपर्क प्रमुख रामलाल ने ट्वीट कर कहा है कि असत्य के हथौड़े से सत्य की नींव नहीं हिलती. कंगना के समर्थन में बीजेपी भी खड़ी है. हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने कहा कि ये हिमाचल की बेटी का अपमान है.

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button