Chhattisgarh

छत्तीसगढ़ में निर्भया फण्ड से पब्लिक ट्रांसपोर्ट में लगेंगे पैनिक बटन, जीपीएस सिस्टम से तुरंत मिलेगी सहायता

  छत्तीसगढ़ में निर्भया फण्ड से पब्लिक ट्रांसपोर्ट में पैनिक बटन लगाए जाएंगे

रायपुर। Nirbhaya Fund will be installed in public transport in Chhattisgarh  छत्तीसगढ़ में निर्भया फण्ड से पब्लिक ट्रांसपोर्ट में पैनिक बटन लगाए जाएंगे इससे संकट के समय महिलाओं को जीपीएस सिस्टम से तुरंत सहायता मिल सकेगी।

इसकी जानकारी देते हुए प्रदेश के परिवहन मंत्री मोहम्मद अकबर ने पत्रकार वार्ता में बताया कि सार्वजनिक वाहनों में केन्द्र शासन द्वारा जीपीएस लगाना अनिवार्य किया गया है। एक जनवरी 2019 से सभी नवीन वाहनों में जीपीएस के साथ पैनिक बटन भी लगाया जाना अनिवार्य है। जिससे किसी आपात स्थिति में पैनिक बटन को दबाकर सहायता चाहे जाने का संकेत दिया जा सके और वाहन तक आवश्यक सहायता शीघ्र अतिशीघ्र पहुंचाई जा सके।

उन्होंने बताया कि वाहनों में लगे जीपीएस को ट्रैक करने के लिए व्हीकल ट्रेकिंग प्लेटफार्म व कंट्रोल एण्ड कमांड सेंटर की स्थापना की जाएगी। इस योजना के क्रियान्वयन के लिए 15.40 करोड़ रूपए का बजट प्रावधान किया जा रहा है। जिसमें से 60 प्रतिशत केन्द्र शासन तथा 40 प्रतिशत राज्य शासन द्वारा वहन किया जाएगा। केन्द्र शासन द्वारा निर्भया फण्ड से 4.19 करोड़ रूपए प्राप्त हो चुका है। राज्य शासन द्वारा भी 6.16 करोड़ रूपए का बजट प्रावधान प्रस्तावित है।

इस संबंध में मुख्य सचिव की अध्यक्षता में गठित इम्पावर्ड कमेटी की बैठक में 18 जनवरी में इस परियोजना लागू करने के लिए नीतिगत अनुमोदन प्राप्त किया गया है। परियोजना के क्रियान्वयन की कार्यवाही परिवहन विभाग द्वारा चिप्स के माध्यम से की जा रही है।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button