राष्ट्रीय

संसद और बीजेपी मुख्यालय ने लिया प्लास्टिक मुक्त में अपना योगदान देने का फैसला

एक बार प्रयोग में आने प्लास्टिक को काम में लेना बंद

नई दिल्ली:देश भर में जिन राज्यों में बीजेपी शासित सरकारें हैं वहां सभी सरकारी दफ़्तरों में, बीजेपी के सभी कार्यालय और सभी केंद्रीय मंत्री, सभी बीजेपी शासित राज्यों के मंत्री, बीजेपी सांसद, बीजेपी विधायक 2 अक्टूबर से पहले अपने कार्यालय में एक बार प्रयोग में आने प्लास्टिक को काम में लेना बंद कर देंगे.

मोदी सरकार के साथ बीजेपी भी राष्ट्रीय स्तर पर एक बार प्रयोग में आने वाले प्लास्टिक से भारत को मुक्त करने के अभियान में शामिल हो गया है. संसद भवन और बीजेपी मुख्यालय ने भी इसमें अपना योगदान देने का फैसला लिया.

बता दें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 15 अगस्त को लाल किले की प्राचीर से 2 अक्टूबर से भारत को एक बार प्रयोग में आने वाले प्लास्टिक से मुक्त करने का आह्वाहन किया था. अब उसको लेकर सारे मंत्रालय कार्ययोजना तैयार कर रहे हैं.

मंत्रियों ने एक बार प्रयोग में आने वाली प्लास्टिक से अपने मंत्रालय और विभागों को मुक्त करने के अभियान की शुरुआत भी कर दी है. पिछले हफ्ते ही मंत्रिपरिषद की बैठक में ड्रिंकिंग, वॉटर और सैनिटेशन विभाग के सचिव ने एक प्रजेंटेशन दी थी कि हिंदुस्तान कैसे बनेगा, एक बार प्रयोग में आने वाली प्लास्टिक से मुक्त.

सूत्रों की मानें तो एक बार प्रयोग में आने वाले प्लास्टिक से भारत को मुक्त करने वाले अभियान से सभी मंत्री अपने अपने मंत्रालयों, विभागों और पीएसयू से इस महीने के अंत तक जुड़ जाएंगे.

Tags
Back to top button