छत्तीसगढ़

दिव्यांग शिव को मिली अत्याधुनिक ट्राईसाइकिल, पैरा ओलपिंग में ले सकेंगे भाग

कवर्धा : कबीरधाम जिले को खेल के क्षेत्र में बढ़ावा देने के लिए विशेष प्रयास किए जा रहे है। प्रदेश स्तर पर आयोजित हॉफ मैराथन तीन किलोमीटर की दौड़ प्रतियोगिता के दो बार धावक रहे दिव्यांग शिव किंकर नेताम को सांसद अभिषेक सिंह के विशेष प्रयास से अत्याधुनिक ट्राइसाकिल प्रदान किया गया। सांसद सिंह ने अपने कबीरधाम जिले के प्रवास के दौरान अपने निवास पर उन्हे ट्राईसाइकिल देकर उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। अत्याधुनिक ट्राईसाकिल मिलने के बाद अब शिव नेताम पैरा ओलपिंग में भाग ले सकता है। राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाले पैरा ओलंपिक प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए जिला प्रशासन द्वारा शिव नेताम को निःशुल्क विशेष प्रशिक्षण देने का भी दिया जाएगा। ट्राइसाकिल की किमत एक लाख 20 हजार रूपए बताई गई है।

उल्लेखनीय है कि शिव नेताम राजधानी रायपुर में वर्ष 2017 और 2018 में आयोजित हॉफ मैराथन में लगातर दो बार प्रथम स्थान प्राप्त कर प्रदेश में कबीरधााम जिले का नााम रौशन किया था। प्रथम स्थान मिलने पर उन्हे बीस-बीस हजार रूपए का पुरस्कार भी प्राप्त हुआ था। उन्होने खेल की इसी विधा में आगे बढ़ने की ठान ली थी, पर आर्थिक रूप से कमजोर होने के कारण निःशक्तजनों के लिए आयोजित होने वाले विशेष रेसिंग प्रतियोगिता में भाग के लिए उन्हे मार्गदर्शन और सहयोग भी नहीं मिल पा रहा था। शिव नेताम ने सांसाद अषिभेक सिंह से भेंट कर राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर दिव्यांगजनों के लिए आयोजित होने वाले रेसिंग प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए अत्याधुनिक ट्राईसिकल की मांग की थी।

राज्य स्तर पर आयोजित होने वाले हॉफ मैराथन प्रतियोगिता में सामान्य स्तर के ट्राईसाकिल की अनुमति रहती है, लेकिन राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाले रेसिंग प्रतियोगिता पैरा ओलपिंक के लिए अत्याधुनिक किस्म के ट्राइसाकिल से ही भाग लिया जा सकता है। शिव इसलिए राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भाग नहीं ले पा रहा था। सांसद अभिषेक ने इस दिव्यांग की दर्द सुनने के बाद उन्हे विशेष अत्याधुनिक ट्राईसिकल देने के लिए वादा किया था। सांसद सिंह ने आज अपना वादा पूरा करते हुए शिव के अत्याधुनिक ट्राइसाकिल प्रदान किया। ट्राईसाकिल की लागत एक लाख बीस हजार रूपए है।

शिव नेताम ने बताया कि शासन-प्रशासन ने मुझे आगे बढ़ने के लिए हमेशा मदद की है। उन्होने यह भी बताया कि इससे पहले भी मुझे सामाज कल्याण विभाग से ट्राइसाकिल मिली है, और उन्ही ट्राईसाकिल से मैने राजधानी में आयोजित हॉफ मैराथन प्रतियोगिता में दो बार प्रथम स्थान प्राप्त कर कबीरधाम जिले का नाम रौशन किया था। उन्होने बताया कि वह कबीरधाम जिले के कवर्धा जनपद पंचायत के ग्राम पंचायत नेवारी का रहने वाला है। उनके माता-’पिता मजदूरी कर पूरा परिवार का पालन पोषण करते है। शिव नेताम अपने पांच भाई और बहनों में सबसे बड़ा है। उन्होने बारहवीं तक नियमित रूप से पढाई की है और वर्तमान में वह कवर्धा के पीजी महाविद्यालय में प्राइवेट रूप से स्नातक की पढ़ाई कर रहा है।

उन्होने सांसद और जिला प्रशासन के विशेष सहयोग के लिए अत्याधुनिक ट्राईसाकिल के लिए अभार व्यक्त करते हुए कहा कि वह राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर आयोजित होने वाले रेसिंग प्रतियोगिता में उत्कृष्ट प्रदर्शन कर पूरा राज्य का नाम रौशन करूंगा। इस अवसर पर कवर्धा विधायक अशोक साहू, विजय शर्मा, जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी कुंदन कुमार एवं समाज कल्याण विभाग के उप संचालक भट् विशेष रूप से उपस्थित थे। ट्राइसाकिल मिलने के बाद शिव ने कलेक्टर एवं जिला पंचायत के मुख्यकार्यपालन अधिकारी कुंदन कुमार से भी विशेष भेंट कर आभार व्यक्त किया। इस अवसर पर कवर्धा विधायक अशोक साहू, जिला पंचायत अध्यक्ष संतोष पटेल, विजय शर्मा, राम कुमार भट्ट, सीताराम साहू, एवं जिला पंचायत सीईओ कुंदन कुमार एवं पुलिस अधीक्षक लाल उम्मेद सिंह विशेष रूप से उपस्थित थे।

Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *