अंतर्राष्ट्रीय

पाकिस्तान से गुजरा पीएम मोदी का विमान तो भेजा 2.86 लाख रुपये का बिल

रूट नैविगेशन' फीस के तौर पर पाकिस्तान ने उस प्लेन पर 2.86 लाख रुपये की फीस लगाई है जिसे पीएम मोदी ने पाकिस्तान दौरे के लिए इस्तेमाल किया था.

>पीएम मोदी ने पाकिस्तान जाने के लिए जिस प्लेन का इस्तेमाल किया था उसे लेकर पाकिस्तान ने 2.86 लाख रुपये का बिल भेजा है. भारतीय वायुसेना के इस विमान पर ‘रूट नैविगेशन’ फीस के तौर पर ये रकम लगाई गई है. यह बिल पीएम के विमान के लाहौर, रूस, अफगानिस्तान, ईरान और कतर यात्राओं के सिलिसले में भेजा गया.

[responsivevoice_button voice=”Hindi Female” buttontext=”अगर आप पढ़ना नहीं
चाहते तो क्लिक करे और सुने”]

इस बात का खुलासा एक आरटीआई में हुआ है. लोकेश बत्रा ने आरटीआई आवेदन दायर कर जानकारी मांगी थी. आरटीआई से हालिस जानकारी में कहा गया है कि जून 2016 तक भारतीय वायुसेना के विमान का इस्तेमाल प्रधानमंत्री की 11 देशों- नेपाल, भूटान, बांग्लादेश, अफगानिस्तान, कतर, ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान, रूस, ईरान, फिजी और सिंगापुर यात्राओं के लिए किया गया.

बत्रा ने पिछले साल अगस्त से लेकर 30 जनवरी 2018 तक आरटीआई से मिले जवाबों की कॉपी मीडिया को दी. इस तरह की एक यात्रा के दौरान 25 दिसंबर 2015 को मोदी पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के आग्रह पर कुछ समय के लिए लाहौर में रुके थे. यह उस वक्त की बात है जब मोदी रूस और अफगानिस्तान से लौट रहे थे.

इसके लिए ‘रूट नैविगेशन’ फीस के रूप में 1.49 लाख रुपये का बिल जारी किया गया. पाकिस्तान स्थित भारतीय उच्चायोग से आरटीआई कानून के तहत मिले रिकॉर्ड में यह जानकारी दी गई है. इसके अलावा पाकिस्तानी अधिकारियों ने 77,215 रुपये का ‘रूट नैविगेशन’ फीस तब लगाया जब मोदी ने 22-23 मई 2016 को ईरान की यात्रा के लिए भारतीय वायुसेना के विमान का इस्तेमाल किया.

इसके साथ ही जब उन्होंने 4-6 जून 2016 को कतर की यात्रा की तो 59,215 रुपये का बिल ‘नैविगेशन फीस’ के रूप में जारी किया गया. इन दोनों ही यात्राओं के लिए मोदी का विमान पाकिस्तान के ऊपर से गुजरा. डेटा के अनुसार 2014 से 2016 के बीच मोदी की यात्राओं के लिए भारतीय वायुसेना के विमान के इस्तेमाल पर करीब दो करोड़ रुपये खर्च हुए. ये रिकॉर्ड भारत के कई मिशनों से हासिल जवाब का हिस्सा है.

Summary
Review Date
Reviewed Item
पाकिस्तान से गुजरा पीएम मोदी का विमान तो भेजा 2.86 लाख रुपये का बिल
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
advt

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.