पैसेंजर ट्रेन को माओवादी दहशत के चलते दंतेवाड़ा में रोक दिया

दंतेवाड़ा।

किरंदुल से विशाखापटनम जाने वाली पैसेंजर ट्रेन को माओवादी दहशत के चलते दंतेवाड़ा में रोक दिया गया। बुधवार की रात यात्रियों को दन्तेवाड़ा में ही उतारना पड़ा। रेलवे प्रशासन का तर्क है कि किरंदुल जाने की इजाजत नहीं है। इसलिए ट्रेन को आगे नहीं भेजा गया है।

गुरूवार को सुबह यह ट्रेन जगदलपुर से विशाखापटनम जाएगी। आने वाले दिनों के लिए अभी कोई गाइड लाइन नहीं आई है। माओवादियों का चुनावी बहिष्कार का असर यात्रियों पर भारी पड़ रहा है। स्टेशन से यात्री रात को करीब दो किलोमीटर पैदल चल कर आवराभाटा पहुंचे। यहां से साधन कर बस स्टैंड आए और आगे जाने के लिए बस यात्रा का सहारा लिया। आम लोगों को ट्रेन के दंतेवाड़ा तक सीमित हो जाने से काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

गौरतलब है कि चुनाव के दौरान पूरे बस्तर क्षेत्र में नक्सली लगातार बड़ी वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। दो दिन पहले नक्सलियों ने दंतेवाड़ा के नीलावाया जंगल में रोड ओपनिंग पार्टी पर हमला किया था जिसमें 4 की मौत हुई थी। पिछले 27 अक्टूबर को भी बीजापुर में हुए ब्लास्ट में 5 लोगों की मौत हुई थी।

Back to top button