छत्तीसगढ़

डॉक्टर की लापरवाही से मरीज की मौत, ग्रामीणों ने घेरा अस्पताल

रितेश गुप्ता:

कोरबा: कोरबा जिले के पसान क्षेत्र प्राथमिक स्वास्थ्य विभाग की एक बड़ी लापरवाही सामने आई है। अज्ञात कारणों से पसान थाना दर्रीपारा निवासी रामसुंदर रजक ने अपने घर पर अज्ञात वजहों से जहर का सेवन कर लिया था। करीब 12 बजे उसे गंभीर हालत में उपचार हेतु स्थानीय प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र लाया गया।

लेकिन वहां डॉक्टर की गैरमौजूदगी से युवक का उपचार नही हुआ। जहर सेवन से गंभीर युवक तड़पता रहा और डॉक्टर गायब थे। मजबूरी में अस्पताल के वार्डबॉय ने युवक को बचाने का हर संभव प्रयास किया लेकिन उसकी जान नहीं बची।

करीब कुछ घंटे भर के इंतज़ार के बाद रामसुंदर रजक ने दम तोड़ दिया। रामसुंदर रजक के मौत के ठीक बाद अस्पताल के एमबीबीएस डॉक्टर दुष्यंत कश्यप पहुँच और फिर रामसुंदर का इलाज शुरू किया. हालांकि परिजनों का आरोप है की तब तक रामसुंदर की मौत हो चुकी थी।

युवक की मौत से परिजन आक्रोशित हो गए, जिसके बाद परिजनों और ग्रामीणों ने डॉक्टर पर देर करने और लापरवाही बरतने का आरोप लगाकर अस्पताल के बाहर ही हंगामा शुरू कर अस्पताल का घेराव कर डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही की माँग पर अड़ गए।

इसकी जानकारी जैसे ही स्थानीय विधायक एवं पोंड़ी-उपरोड़ा बीएमओ को दी गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए विधायक, विभागीय अधिकारियों के साथ तुरंत ही मौके पर पहुँचे और वस्तु स्थिति से अवगत हुये। मामले की हकीकत जानने के बाद डॉक्टर के खिलाफ कार्यवाही करते हुए तत्काल ही उसे प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पसान से हटाया गया।

Tags
Back to top button