चूहे कुतरते रहे मरीज की आंख अस्पताल में

बीएमसी (बृहनमुंबई महानगरपालिका) के अस्पताल में मरीजों की देखभाल में किस कदर लापरवाही बरती जाती है इससे जुड़ा एक ताजा मामला मुंबई के कांदिवली स्थित शताब्दी अस्पताल में देखने मिला. यहां इलाज कराने आई एक महिला पेशेंट की पैर चूहों ने कुतर दिए. वहीं, कुछ दिन पहले हुए ऐसे ही एक मामले में चूहों ने महिला की आंख कुतर डाली.

मिली जानकारी के अनुसार, मुंबई की रहने वाली 65 साल की शिलाबेन शाह अपने पैर की हड्डियों का इलाज कराने शताब्दी अस्पताल में भर्ती हुई थी. तभी रात में उन्हें अचानक पैर में दर्द उठा. जब उन्होंने उठकर देखा तो चूहे उनके पैर का मांस कुतर रहे थे.
बता दें कि बीते एक हफ्ते में शताब्दी अस्पताल में चूहों द्वारा मरीज को कुतरने की यह दूसरी घटना है. इसके पहले पैरालेसिस का इलाज कराने भर्ती हुई प्रमिला नेरुरकर के साथ भी ऐसी ही दिलदहला देने वाली घटना हुई.

4 अक्टूबर की रात जब वह अस्पताल के कमरे में सो रही थी तब उनकी आंख और पैर चूहों ने कुतर दिए. पैरालेसिस होने के कारण वह दर्द के मारे छटपटाती रही. इस बीच उन पर बगल के बिस्तर पर सो रहे एक मरीज की नज़र पड़ी तो उन्होंने चूहों को भगाया.

एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जब इस मामले की जानकारी परिजनों को लगी तो उन्होंने अस्पताल में हंगामा किया. यही नहीं, जब इसकी शिकायत लेकर परिजन अस्पताल प्रबंधन के पास गए तो उन्होंने कहा कि, “10 रुपये में एक पेशेंट को और क्या सुविधाएं दें.”

उधर, चूहों के बारे में पूछे जाने पर चीफ मेडिकल सुपरिटेंडेट डॉ. पी. जाधव ने कहा कि, “हम मामले की जांच कर रहे हैं. अस्पताल में कीटनाशक छिड़काव करने के आदेश दिए गए हैं. इसके अलावा चूहों को पकड़ने के लिए अस्पताल में पिंजरे लगाए गए हैं. साथ ही मरीजों की देखभाल और साफ-सफाई रखने के आदेश दिए गए हैं.”

Back to top button