नवीन पटनायक की बहन ने ठुकराया पद्मश्री पुरस्कार, राजनैतिक फायदा बताया मुख्य कारण

आपको बता दें कि नवीन पटनायक की बहन गीता मेहता अब अमेरिका की नागरिक हैं. इस बार सरकार ने कुल 11 विदेशी नागरिकों को यह पुरस्कार देने का ऐलान किया है

नई दिल्ली

ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की बहन गीता मेहता ने पद्मश्री पुरस्कार लेने से इनकार कर दिया है. उन्होंने इस पुरस्कार को नहीं लेने की वजह बताते हुए कहा कि पुरस्कार नहीं लेने ‘मुझे पद्मश्री पुरस्कार के लिए चुना गया, यह मेरे लिए बेहद सम्मान की बात है.

हालांकि मुझे यह पुरस्कार लेने से इनकार करते हुए बहुत दुख हो रहा है, क्योंकि यह पुरस्कार उस समय दिए जाने की घोषणा की गई है,

जब आम चुनाव बेहद करीब आ गए हैं. इस समय पुरस्कार लेना गलत हो सकता है. पुरस्कार नहीं लेने से मुझे और सरकार दोनों को शर्मिंदगी झेलनी पड़ रही है.’ उन्होंने इसका ऐलान अमेरिका के न्यूयॉर्क से इसकी घोषणा की है.

आपको बता दें कि नवीन पटनायक की बहन गीता मेहता अब अमेरिका की नागरिक हैं. इस बार सरकार ने कुल 11 विदेशी नागरिकों को यह पुरस्कार देने का ऐलान किया है.

केंद्र की मोदी सरकार ने आगामी लोकसभा चुनाव में राजनीतिक फायदा लेने के लिए यह पुरस्कार दे रही है, जिसके चलते वो इसको स्वीकार नहीं कर सकती हैं. उनको साहित्य और शिक्षा के क्षेत्र में उल्लेखनीय उपलब्धि के लिए यह पुरस्कार दिए जाने की घोषणा की गई थी.

1
Back to top button