बिक्री दवस्तावेज के बदले पटवारी ने मांगे 10 हजार, पीड़ित ने कलेक्टर से की शिकायत

0- ऋषि मुखर्जी

रायगढ़:-

मुख्यालय के पहन 22 दरोगा मुड़ा के पटवारी विनय त्रिपाठी के द्वारा पीड़ित भूमि स्वामी से बिक्री दस्तावेज बनाने के एवज में 10 हजार रुपये की मांग की। पटवारी की मांग पर पीडित ने 3500 रूपए उधार लेकर पटवारी विनय को दिया। पैसे लेने के बाद पटवारी ने पीडिता से दुव्र्यवहार किया, जिसके बाद पीडिता ने इसकी शिकायत की।

मिली जानकारी के मुताबिक पीडित रजनीश कुशवाहा ग्राम दरोगामुड़ा के रहने वाले हैं। आर्थिक स्थिति खराब होने के कारण जमीन को बेचने के लिए पिछले करीब 5 से 6 महीने से प्रयास कर रहे थे।

0-पटवारी ने मांगे 10 हजार रूपए

इसके लिए दस्तावेज बनाने के लिए पीडित पटवारी के पास गया। पटवारी त्रिपाठी ने उसे दूसरे दिन ऋण पुस्तिका रजिस्ट्री और आधार कार्ड ले कर घर बुलवाया और दस्तावेज बनाने के नाम पर सीधे उससे 10 हजार रुपये मांगे।

लेकिन पैसा देने से इंकार करने के बाद पटवारी ने पीडिता से दुव्र्यवहार करने लगा और कहां कि जब तुम्हारे पास पैसे हो तब यहां दस्तावेज बनवाने आना। इससे मजबूर होकर पीडित व्यक्ति ने 3500 रुपए उधार लेकर 14 दिसंबर को पटवारी त्रिपाठी के घर पहुंचा। उसे पैसों के साँथ भूमि की ऋण पुस्तिका,रजिस्ट्री आधार कार्ड दिया।

इसके बाद रजनीश ने पूरे पैसोँ की व्यवस्था करने के बाद दूसरे दिन 15 दिसंबर को पैसों की व्यवस्था होने के बाद आकर दस्तावेज ले जाना। 16 को जब रजनीश देर शाम पटवारी त्रिपाठी से दस्तावेज लेने गया तो पटवारी ने पुनः बकाया पैसे मांगे।

रजनीश ने अनुरोध करते हुए कहा कि और पैसे अब उसके पास नही हैं जितनी रकम आपको लोगों से उधार लेकर रिश्वत के रूप में दी है,उसके अलावा एक पांच सौ का नोट ही उसके पास है।

आपको दस्तावेज देने है तो दे दीजिये नही तो मैं खाली हांथ ही वापस चला जाऊंगा। इतना कहने भर की देरी थी रजनीश के बताए अनुसार पटवारी विनय त्रिपाठी ने उससे पांच सौ रुपये जबरन झटक लिए।।

0-कलेक्टर को सौपा लिखित शिकायत

पटवारी के उक्त आचरण से बुरी तरह आहत मजबूर रजनीश बिक्री दस्तावेज लेकर घर चला आया। काफी सोंच विचारने के बाद उसने घटना के सम्बन्ध मे प्रेस कर्मियों से चर्चा की और लिखित शिकायत बना कर कलेक्टर रायगढ़ के अलावा, मुख्यमंत्री, आईजी बिलासपुर रेंज, पुलिस अधिक्षक रायगढ़, थाना प्रभारी चक्रधरनगर, एसडीएम रायगढ़ के अलावा विधायक रायगढ़ को देने की मंशा व्यक्त की आवेदन की।

Tags
Back to top button