शांति ही मानव कल्यान के लिए उत्तम : संजय

रायपुर : हर व्यक्ति, समाज, देश को यह समझना होगा कि इंसानियत ही सबसे बड़ा धर्म है। शांति ही मानव कल्यान के लिए उत्तम है। जीवन का प्रमुख लक्ष्य शांति और खुशी प्राप्त करना है, जिसके लिए मनुष्य निरंतर कर्मशील है। शुक्रवार को ये बातें आरडीए अध्यक्ष संजय श्रीवास्तव ने कही। वे मारवाड़ी युवा मंच संस्कार की ओर से विश्व शांति दिवस कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।
उन्होंने कहा कि यह दिवस सभी देशों और लोगों के बीच स्वतंत्रता, शांति और खुशी का एक आदर्श माना जाता है। इसमें मुख्य उद्देश्य युद्ध विराम, अहिंसा और मानवतावादी विचारों को बढ़ावा देना होता। शांति किसे प्यारी नहीं होती,शांति की ही खोज में लोग अपना अधिकांश जीवन न्योछावर कर देते हैं। किन्तु यह काफी निराशाजनक है कि आज इंसान दिन प्रतिदिन इस शांति से दूर होता जा रहा है। स्वार्थ और घृणा ने मानव समाज को विखंडित कर दिया है। यूं तो विश्व शांति का संदेश हर युग और हर दौर में दिया गया है, लेकिन इसको अमल में लाने वालों की संख्या बेहद कम है। विश्व के सभी देशों का यह प्रयास रहता है कि वे युद्ध और हिंसा से बचें और अपने देश का विकास करें जिससे देश के नागरिक खुशहाल रहे।

Back to top button