पेगासस सॉफ्टवेयर: इज़रायल के लिए एक टास्क फोर्स का किया गठन

इस टीम का मुख्य फोकस इज़रायल कंपनी NSO ग्रुप पर लग रहे आरोपों की जांच करना होगा

नई दिल्ली:पेगासस स्पाईवेयर मामले में लगातार लग रहे आरोपों के बीच इज़रायल ने जांच के लिए एक टास्क फोर्स का गठन किया है. इज़रायल ने वरिष्ठ मंत्रियों की एक टीम बनाई है, जो इस पूरे विवाद पर नज़र रखेंगे.

इस टीम का मुख्य फोकस इज़रायल कंपनी NSO ग्रुप पर लग रहे आरोपों की जांच करना होगा, साथ ही देश की साइबर एक्सपोर्ट नीति को परखना होगा.

अंतरराष्ट्रीय मीडिया ने एक रिपोर्ट में दावा किया था कि इजरायल के एनएसओ ग्रुप द्वारा बनाए गए पेगासस स्पाइवेयर के जरिए दुनिया के कई बड़े नेताओं, पत्रकारों और अन्य हस्तियों का फोन टैप किया गया था. इसमें भारत, फ्रांस, पाकिस्तान, सऊदी अरब समेत कई देशों के लोगों को निशाना बनाया गया था.

एनएसओ ग्रुप की ओर से इन मीडिया रिपोर्ट्स का खंडन किया गया था. एनएसओ ग्रुप के मुताबिक, वह सिर्फ सरकारी एजेंसी को ही अपना सॉफ्टवेयर देता है और जो दावे किए गए हैं, उनमें उसका कोई हाथ नहीं है. इन आरोपों के बीच इज़रायल की लगातार खराब हो रही छवि को देखते हुए ये फैसला लिया गया है.

आपको बता दें कि पेगासस जासूसी मामले की जांच के लिए फ्रांस ने भी आदेश दे दिया है. फ्रांस में राष्ट्रपति इमैनुएल मैक्रों के अलावा एक हज़ार से अधिक लोगों को निशाना बनाए जाने का दावा है.

भारत में भी इस मुद्दे को लेकर जमकर बवाल हो रहा है. संसद के मॉनसून सत्र में विपक्ष द्वारा इस मसले को जोरशोर से उठाया जा रहा है, शुरुआती दिनों में इस विषय पर हंगामे के कारण सदन का कामकाज प्रभावित भी रहा. वहीं, भारत सरकार ने इस मामले का पूरी तरह खंडन किया है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button