छत्तीसगढ़

पेंड्रा में आवास योजना के नाम पर दो महिलाओं से धोखाधड़ी

कन्हैया केशरवानी

पेंड्रा। नरेंद्र मोदी की हर सर छत मतलब सभी गरीबो का अपना घर जिससे वो सर उठा कर जी सके का सपना देखा था लेकिन पेंड्रा में इसके विपरीत है।

जनपद पंचायत के ग्राम अड़भार गांव का जंहा रहने वाली फुलझड़ियां बाई और दुवासिया बाई को मकान कागजों में मकान का निर्माण हुआ और उनकी दो किस्त भी निकाल ली गई है।

जब पीडित महिलाएं अपना आवास कागजों में खोज रही थी तब उन्हें पता चला कि दो अलग-अलग हितग्रहियों की जगह और फ़ोटो लगा कर पैसा निकाल लिया गया है।

खोजबीन और दस्तावेजों के आधार से पता चला कि फुलझड़ियां बाई के आवास निर्माण के स्थल में जियोटेक फोटोग्राफ में ग्राम अड़भार की उषा पाव को खड़ा कर के जनपद पेंड्रा के आवास अधिकारी और आवास मित्र के द्वारा प्रथम 35000 रुपये दूसरे खाते की आईडी देकर निकाल लिया गया।।

आवास की दूसरी क़िस्त में गांव की दुवासिया बाई को खड़ा करके दूसरे आवास की पलिंथ लेबल बात कर 45000 रुपये की राशि भी आहरित कर ली गई।

फुलझड़ियां बाई ने अपनी शिकायत में लिखा है कि जनपद पंचायत के प्रधानमंत्री आवास समन्वयक प्रकाश महिलाएं, कम्प्यूटर आपरेटर राजेश गुप्ता और आवास मित्र द्रोपती केवट ने मिली भगत करके इस काम को अंजाम दिया है।

Summary
Review Date
Reviewed Item
पेंड्रा में आवास योजना के नाम पर दो महिलाओं से धोखाधड़ी
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags