जिले के लोगों ने मतदान में दिखाई सहभागिता

राजिम में 80 से अधिक तो बिन्द्रानवागढ़ में 85 प्रतिशत पड़े वोट

गरियाबंद। गरियाबंद जिले के दोनों विधानसभा क्षेत्र में शांतिपूर्ण मतदान हुआ । प्रत्येक पांच साल में आने वाले लोकतंत्र के इस महाउत्सव में आम मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर भागीदारी निभा रहे हैं। ग्रामीण क्षेत्रों के अलावा संवेदनशील क्षेत्रों में भी भारी उत्साह देखने को मिला।

राजिम विधानसभा क्षेत्र में 80 प्रतिशत से ऊपर व बिन्द्रानवागढ़ विधानसभा क्षेत्र में 85 प्रतिशत मतदान हुआ। धुर नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में भी आंकड़ा 80 प्रतिशत के पार हुआ। जो यह दिखता है कि जनता में मतदान के प्रति लोगों में रुझान बढ़ा है गरियाबंद की बालक प्राथमिक शाला में 70 से लेकर 85 साल के कई बुजुर्गों ने व्हीलचेयर के सहारे बैठ कर वोट डालने गये । सपना वर्मा ने ससुराल आने के बाद पहली बार अपने मत का प्रयोग किया। तो वही कुम्हारपारा प्राथमिक शाला में कानपुर से वोट डालने पहुँची रमा सिंह चंदेल।

खूबलाल ठाकुर (जेल लाइन) पैरों में चोट के बावजूद बैसाखी के सहारे वोट डालने पहुँचे । श्रीमती दिव्या अडवंशी अपने दो माह के दुधमुहे बच्चे को लेकर मतदान करने पहुंची दिव्या अडवंशी। आदर्श मतदान केन्द्र छुरा में 110 वर्षीय मंगलीन बाई निषाद ने व्हील चेयर में बैठकर अपने बहुमूल्य मत का उपयोग किया।

उन्होंने कहा कि जब तक मैं जीवित हूं तब तक वोट डालने आउंगी। पहली बार मतदान के लिए आयी बी.ए. प्रथम वर्ष की छात्रा और वर्षा नेताम ने उत्साह से अपना मत डाला। उन्होंने कहा कि आज लोकतंत्र के इस पर्व में अपना मत रूपी आहुती देकर अपनी जिम्मेदारी निभाने पर खुशी हो रही है। छुरा के संगवारी मतदान केन्द्रों इस बार केवल महिलाओं की लम्बी कतार देखने को मिली।

श्रीमती उर्मीला देवांगन, निर्मिला सोनवानी, सुरेखा अग्रवाल ने काम काज छोड़कर वोट देने लाइन में खड़ी थी। उन्होंने कहा कि इस बार महिलाओं की सुविधा का उचित ध्यान रखा गया है, जो सराहनीय है। ग्राम लोहझर मतदान केन्द्र-43 के युवा मतदाताओं विनय यदु, भुपेन्द्र यदु, हेमु भारद्वाज पहली बार उत्साह के साथ वोट डालने मतदान केन्द्र पहुंचे। वहीं श्रीमती दिव्या अडवंशी अपने दो माह के दुधमुहे बच्चे को लेकर मतदान करने पहुंची थी।

आदर्श मतदान केन्द्र लोहझर में तुलसी व हेमलता दुबे ने अपने पांच वर्षीय बच्चे के साथ मतदान केन्द्र पहुंचे। जिले के संवेदनशील क्षेत्रों भी शान्तिपूर्ण मतदान जारी है। सुरक्षा बलों के बीच मतदाताओं ने बिना डर और झिझक के अपने मत का उपयोग किया। संवेदनशील केन्द्र ओढ़ व आमामोरा में भी उत्साह जनक मतदान हुआ।

मतदान केन्द्र ग्राम दर्रीपारा-65 के लोहारी बाई धु्रव ने धान कटाई कार्य छोड़कर मतदान किया। इसी तरह जोबा, कोसमी, आमदी व आस-पास के मतदान केन्द्रों में भी शांतिपूर्ण मतदान जारी रहा ।

मतदान केन्द्रों में मतदाताओं के सहयोग के लिए हेल्प डेक्स बनाये गये है जहां आवश्यक मद्द दी जा रही है। वहीं दिव्यांगाों के लिए व्हील चेयर की व्यवस्था भी प्रत्येक मतदान केन्द्रों में की गई है।

तो गरियाबंद जिले के 62 मतदान केंद्रों पर केंद्रीय निर्वाचन आयोग और रायपुर स्थित निर्वाचन कार्यालय से लाइव नजर रखी जा रही इन 62 मतदान केंद्रों पर वेबकास्ट कैमरे लगाकर इनकी फुटेज की निगरानी गरियाबंद जिला कलेक्ट्रेट तथा निर्वाचन से जुड़े कई अधिकारी कर रहे हैं दरअसल पारदर्शिता बनाए रखने के लिए इन वेबकास्ट कैमरा को लगाकर मतदान केंद्रों की वीडियो रिकॉर्डिंग भी की जा रही है और फुटेज भी रखी जा रही है जिला कलेक्ट्रेट में बैठे अधिकारी लगातार इसकी निगरानी कर मतदान केंद्रों के अधिकारियों को व्यवस्था नियम अनुरूप बनाए रखने का निर्देश दे रहे हैं यहां इन कैमरों को नेट से जोड़कर वाईफाई के माध्यम से लगातार वीडियो फुटेज की निगरानी हो रही है।

इस संबंध में गरियाबंद जिले के कलेक्टर श्याम धावड़े का कहना है कि निष्पक्ष एवं निर्भीक मतदान के लिए पारदर्शिता बनाए रखने के लिए इलेक्शन कमीशन ऑफ इंडिया के निर्देश पर गरियाबंद जिले के 65 मतदान केंद्रों में वेबकास्ट कैमरे लगाए गए हैं जिनकी फुटेज देखकर लगातार ऊपर से निर्देश मिल रहे हैं।

1
Back to top button