अंतर्राष्ट्रीय

बांग्लादेश में सभी धर्म और जाति के लोगों को समान अधिकार प्राप्त :शेख हसीना

प्रधानमंत्री ने 'ग्रेट विक्ट्री डे' पर सत्तारूढ़ बांग्लादेश अवामी लीग द्वारा आयोजित एक बैठक को संबोधित करते हुए कहा

ढांका:‘ग्रेट विक्ट्री डे’ पर सत्तारूढ़ बांग्लादेश अवामी लीग द्वारा आयोजित एक बैठक को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री शेख हसीना ने बांग्लादेश के पाकिस्तान से अलग होने के 49 वर्ष पूरे होने के अवसर पर कहा कि बांग्लादेश में सभी धर्म और जाति के लोगों को समान अधिकार प्राप्त हैं.

उन्होंने कहा, ”बंगबंधु की मूर्ति पर विवाद पैदा करने की कोशिश की गई….बांग्लादेश गैर सांप्रदायिक भावना वाला देश है.” गौरतलब है कि आज ही के दिन 1971 में बांग्लादेश को पाकिस्तान से जीत मिली थी. देश में हर साल इस अवसर पर भव्य आयोजन होता था लेकिन इस वर्ष कोरोना वायरस संक्रमण के कारण इसे सादगी से मनाया जा रहा है. यहां तक कि सशस्त्र बलों की परेड भी अयोजित नहीं की गई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी बांग्लादेशी समकक्ष शेख हसीना के बीच बृहस्पतिवार को होने वाले ऑनलाइन सम्मेलन के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच 55 वर्ष बाद सीमा-पार रेलवे लाइन बहाल करने को लेकर सहमति होने की उम्मीद है. सूत्रों ने बताया कि साथ ही कई अन्य समझौतों पर भी मुहर लग सकती है.

उन्होंने कहा कि असम और पश्चिम बंगाल का बांग्लादेश से बेहतर संपर्क के लिए चिलहाटी-हल्दीबाड़ी रेलवे मार्ग का उद्घाटन होने की उम्मीद है. इसके अलावा, बांग्लादेश के राष्ट्रपिता बंगबंधु शेख मुजीबुर रहमान की जन्म शताब्दी के उपलक्ष्य में दोनों प्रधानमंत्री एक स्मारक डाक टिकट जारी कर सकते हैं.सूत्रों ने कहा कि सम्मेलन के दौरान करीब पांच समझौते होने की भी उम्मीद है.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button