सिर्फ 49 दिनों में 47 करोड़ शराब पी गए महासमुंद के लोग

महासमुंद।

जिले की सरकारी दुकानों में अक्टूबर और नवंबर महीने में शराब की जमकर बिक्री हुई। आबकारी के आंकड़ों के मुताबिक 49 दिनों में 47 करोड़ रुपए की शराब लोग गटक गए। वहीं इतने ही दिनों में शराब की अवैध बिक्री के 97 मामले दर्ज किए गए।

आबकारी अधिकारी ने बताया कि 1 से 31 अक्टूबर तक 33 करोड़ रुपए की शराब बिक्री हुई है। इसी प्रकार 1 से 18 नवंबर की शाम तक 14 करोड़ रुपए की शराब बिकी। यानी डेढ़ महीने में शराब के शौकिनों ने खूब जाम छलकाया।

वहीं आचार संहिता लगते ही शराब की अवैध बिक्री पर भी आबकारी विभाग की पैनी नजर थी। विभाग ने 97 प्रकरण में आरोपियों से करीब 428.26 लीटर शराब की जब्त की। इसी प्रकार 1 हजार लीटर महुआ लाहन भी जब्त किया गया है। जब्त शराब की कीमत करीब एक लाख 18 हजार 530 रुपए आंकी गई है।

सख्ती के बाद कोचियों के हौसले बुलंद

इधर, पुलिस ने आबकारी एक्ट के तहत सैकड़ों मामले दर्ज किए हैं। फिर कोचिए निडर होकर शराब की अवैध बिक्री कर रहे हैं। यही नहीं, ओडिशा ब्रांड की शराब की बिक्री भी चोरी-छुपे हो रही है। कई मामले सामने भी आए हैं। क्राइम स्क्वॉड ने बसना के पिरदा जंगल में मध्यप्रदेश ब्रांड की शराब करीब 500 पेटी शराब जब्त की थी। इस आरोप में टीम ने अभी तक 8 लोगों को इंदौर से गिरफ्तार भी किया है। टीम को बाकी आरोपियों की तलाश जारी है।

आचार संहिता लगने के बाद 18 नवंबर की शाम तक विभाग ने 97 प्रकरण दर्ज किए हंै। विभाग ने करीब 428.66 लीटर शराब जब्त की है।
प्रवीण वर्मा, आबकारी अधिकारी

1
Back to top button