राष्ट्रीय

केवल 3 घंटे ही जला सकेंगे पटाखे, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ में लोग

चंडीगढ़ः पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ के लोग दिवाली के दिन शाम के साढ़े छह से साढ़े नौ तक महज तीन घंटे पटाखे जला सकेंगे. दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में पटाखों की बिक्री पर उच्चतम न्यायालय की रोक के कुछ दिन बाद उच्च न्यायालय ने यह आदेश दिया. पटाखों से प्रदूषण को लेकर चिंता व्यक्त करते हुए पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने दोनों राज्यों और केंद्र-शासित प्रदेश के अधिकारियों को व्यापारियों को अस्थायी लाइसेंस जारी करने को लेकर कई दिशा-निर्देश भी जारी किए.

न्यायमूर्ति ए के मित्तल और न्यायमूर्ति अमित रावल की खंडपीठ ने कहा कि बाद में भविष्य के दिशा-निर्देश जारी किये जाएंगे.

वरिष्ठ अधिवक्ता अनुपम गुप्ता ने कहा, ‘‘न्यायालय ने यह स्पष्ट किया कि दिशा-निर्देश केवल इस साल की दिवाली पर पंजाब, हरियाणा और चंडीगढ़ में लागू होंगे. न्यायालय ने आदेश दिया कि शाम साढ़े छह से साढ़े नौ बजे तक ही पटाखे जलाए जाएं.’’ उन्होंने कहा, ‘‘उपायुक्त, पुलिस आयुक्तों और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षकों को आदेश को सख्ती से लागू करने के लिए कहा गया है.

एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर बैन
आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को दिल्ली-एनसीआर में पटाखों की बिक्री पर बैन लगा दिया है. कोर्ट ने अपने अहम फैसले में आदेश दिया है कि 1 नवंबर 2017 तक दिल्ली-एनसीआर में पटाखे नहीं बिकेंगे. कोर्ट ने कहा कि 12 सितंबर का पुराना आदेश 1 नवंबर से लागू होगा. कोर्ट ने कहा कि 1 नवंबर के बाद कुछ शर्तों के साथ दिल्ली-एनसीआर में पटाखे बेचे जा सकेंगे. इसके साथ ही कोर्ट ने यह भी स्पष्ट किया है कि दिल्ली-एनसीआर में पटाखे चलाने पर कोई बैन नहीं है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि पटाखों की बिक्री 1 नवंबर, 2017 से दोबारा शुरू हो सकेगी. इस फैसले से सुप्रीम कोर्ट देखना चाहता है कि पटाखों के कारण प्रदूषण पर कितना असर पड़ता है.

Summary
Review Date
Reviewed Item
जला सकेंगे पटाखे
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags

Related Articles

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *