अंतर्राष्ट्रीय

16 साल पहले भारत पर परमाणु हमला करना चाहते थे मुशर्रफ!

दुबई: पाकिस्तान के पूर्व सैन्य शासक जनरल परवेज मुशर्रफ ने एक एेसी हैरानीजनक बात का खुलासा किया है जिसे शायद ही कोई जानता हो। परवेज मुशर्रफ ने बताया, दिसंबर 2001 में भारतीय संसद पर आतंकी हमला हुआ था। इसके बाद दोनों देशों के बीच तनाव इतना बढ़ गया था कि 2002 के शुरुआत में परमाणु युद्ध का खतरा पैदा हो गया था।

इंटरव्यू के दौरान परवेज मुशर्रफ ने किया ये खुलासा
जापानी समाचार पत्र मेनची शिंबुन को दिए इंटरव्यू में मुशर्रफ(73)ने कहा कि जब वह परमाणु हथियारों को मोर्चों पर तैनात करने के बारे में विचार कर रहे थे तो वह कई रातों तक सो नहीं पाए थे। उन्होंने कहा कि 2002 में तनाव बहुत बढ़ गया था। दोनों ओर से धमकियां दी जानें लगीं थी और परमाणु हथियार के इस्तेमाल का खतरा बढ़ गया था।मुशर्रफ ने उस समय भी सार्वजानिक रूप से परमाणु हथियारों के इस्तेमाल की आशंका से इंकार नहीं किया था। लेकिन वह ऐसा सिर्फ जवाबी कार्रवाई के तौर पर करने की सोच रहे थे। मुशर्रफ ने कहा, उस दौरान न तो पाकिस्तान ने और न ही भारत ने परमाणु हथियार मिसाइल में फिट किए थे। शायद दोनों ही देश परमाणु हथियार का इस्तेमाल नहीं करते। ऐसा नहीं हुआ। इसके लिए परवरदिगार का शुक्रिया अदा करता हूं। गौरतलब है कि मुशर्रफ ने 1999 में नवाज शरीफ की सरकार का तख्तापलट करके पाकिस्तान की सत्ता पर कब्जा किया था और उसके बाद ही भारतीय संसद पर आतंकी हमला हुआ था।

Back to top button