बिज़नेसराष्ट्रीय

Petrol Diesel Price: लगातार 5वें दिन महंगा हुआ पेट्रोल-डीजल

जानिए अपने शहर का भाव

हर रोज सुबह 6 बजे पेट्रोल और डीजल की कीमत बदलती है. पेट्रोल पंप पर खुदरा दाम का सिर्फ 25 से 30 प्रतिशत अंतर्राष्ट्रीय बेंचमार्क लागत पर निर्भर करता है. इसके अलावा बाकि केंद्र और राज्यों का कर होता है. वहीं बेंचमार्क लागत में बढ़ोतरी का बोझ ग्राहकों पर पड़ता है.

नई दिल्ली: देश में लगातार पांचवें दिन पेट्रोल-डीजल की कीमत में बढ़ोतरी हुई है. राजधानी में आज डीजल की कीमत में 30 पैसे की बढ़ोतरी हुई है, जबकि अन्य शहरों में भी कीमतें काफी बढ़ी हैं. दिल्ली और मुंबई में पेट्रोल की कीमत अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गई है. मंगलवार से लगातार पेट्रोल-डीजल के दाम बढ़ रहे हैं.

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के मुताबिक, शनिवार यानी आज दिल्ली में पेट्रोल का भाव 88.44 रुपये प्रति लीटर है, जबकि मुंबई में 94.93 रुपये लीटर है. कोलकाता में पेट्रोल का रेट 89.73 रुपये लीटर है और चेन्नई में 90.70 रुपये प्रति लीटर है. वहीं, डीजल की बात करें तो दिल्ली में डीजल आज 78.74 रुपये प्रति लीटर पर बिक रहा है. मुंबई में डीजल का रेट 85.70 प्रति लीटर है, कोलकाता में डीजल के दाम 82.33 रुपये प्रति लीटर हैं, चेन्नई में डीजल 83.86 रुपये प्रति लीटर है.

शहर पेट्रोल डीजल

नई दिल्ली 88.44 78.38
मुंबई 94.93 81.96
कोलकाता 89.73 81.96
चेन्नई 90.70 83.52
बेंगलुरु 91.40 83.47
हैदराबाद 91.96 85.89
पटना 90.84 83.95
जयपुर 94.86 87.04
लखनऊ 87.22 79.11
नोएडा 87.28 79.16

देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल का भाव 95 रुपये प्रति लीटर के करीब पहुंच गया है. कच्चे तेल के दाम में आगे और बढ़ने पर पेट्रोल का भाव 100 रुपये प्रति लीटर को भी पार कर सकता है. हालांकि, कच्चे तेल के दाम में फिर दो सत्रों से नरमी बनी हुई है जिससे दोनों वाहन ईंधनों के भाव में जारी बढ़ोतरी पर फिर लगाम लगने की उम्मीद की जा सकती है.

असम में पेट्रोल, डीजल, शराब की कीमतों में कमी

असम में पेट्रोल और डीजल 5 रुपये सस्ता हो गया है, जबकि शराब पर 25 फीसदी अतिरिक्त उपकर भी हटा दिया जाएगा. असम सरकार ने पिछले साल कोविड-19 महामारी के चरम पर दोनों ईंधन पर लगाए गए 5 रुपये के अतिरिक्त उपकर को हटा दिया था.

2021-2022 के पहले चार महीनों के लिए तीन दिवसीय विधानसभा सत्र के दूसरे दिन शुक्रवार को वोट-ऑन-अकाउंट पेश करते हुए, वित्त और स्वास्थ्य मंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने शुक्रवार को कहा कि सभी के लिए एक बड़ी राहत के रूप में ईंधन की कीमतों में कमी आएगी.

पिछले साल, असम और मेघालय ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की थी. पड़ोसी नागालैंड ने असम और मेघालय के पेट्रोलियम उत्पादों की कीमतों में बढ़ोतरी के बाद ईंधन डीजल पर 5 रुपये प्रति लीटर और पेट्रोल और मोटर स्पिरिट पर 6 रुपये का कोविड-19 उपकर लगाया था. अन्य पूर्वोत्तर राज्यों ने भी महामारी की वजह से आर्थिक संकट के मद्देनजर पेट्रोल और डीजल पर अतिरिक्त उपकर लगाया.

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button