छत्तीसगढ़

पेट्रोल पंप संचालक अशोक मेहता व अजीत मेहता सहित 3 के खिलाफ 420 का अपराध दर्ज

-नगर निगम के नए काम्प्लेक्स में आबंटित दुकान को गलत तरीके से हड़पने का मामला

रायगढ़।

शहर के विवादित पेट्रोल पंप संचालक मेहता परिवार की मुश्किलें फिर बढ़ गई है। नया मामला नगर निगम के स्टेशन रोड स्थित नए कॉम्प्लेक्स का है। जहां एस एन गुप्ता को नगर निगम की दुकान नंबर 60 का आवंटन किया गया था। केकी बार के पीछे की इस दुकान को अशोक मेहता व अजित मेहता ने छल कपट व धोखे से अपने कब्जे में कर लिया।

वहीं अरुण अग्रवाल को भाड़े पर दे दिया गया। जिसकी शिकायत एस एन गुप्ता की मृत्यु के बाद उनके वारिसान होने के नाते उनकी पुत्री हेमलता अग्रवाल ने की। पर उसकी गुहार को नजर अंदाज कर दिया गया। जिसके बाद पीड़िता ने नगर निगम में सूचना का अधिकार के तहत निगम के 60 नंबर दुकान के मालिकाना हक से सम्बंधित जानकारी ली।

जिसमें उसके पिता का नाम सामने आया। जिसके आधार पर पीड़िता हेमलता अग्रवाल ने कानून का दरवाजा खटखटाते हुए रायगढ़ रढ दीपक झा से लिखित में शिकायत की। जिसकी जांच रढ के शिकायत शाखा ने की। जिसमें पीड़िता की शिकायत को सही पाया गया।

जिसके बात शिकायत सेल के जांच प्रतिवेदन के आधार पर कोतवाली पुलिस ने भारतीय संविधान की धारा 420,467,468,471,व 34 के तहत स्टेशन चौक निवासी मेहता पेट्रोल पंप के संचालक अजीत मेहता, अशोक मेहता और एक अन्य के खिलाफ अपराध पंजीबद्व किया गया है।

विदित हो कि स्व. एस एन गुप्ता की दुकान लाइब्रेरी के करीब थी। सड़क चौड़ीकरण की वजह से उन्हें नगर निगम नये कॉम्प्लेक्स में केकी बार के पीछे 60 नंम्बर दुकान दिया गया था।

Summary
Review Date
Reviewed Item
पेट्रोल पंप संचालक अशोक मेहता व अजीत मेहता सहित 3 के खिलाफ 420 का अपराध दर्ज
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags
jindal