राष्ट्रीय

‘बीमारी’ का बहाना बनाकर पायलटों ने ली छुट्टी, 14 उड़ानें रद्द

पैसों की कमी से जूझ रही जेट एयरवेज

मुंबई:

पैसों की कमी से जूझ रही जेट एयरवेज अपने सीनियर मैनेजमेंट, पायलट और इंजीनियर को अगस्त महीने से सैलरी नहीं दे पा रही है. जिसकी वजह से जेट एयरवेज के कई पायलटों को कई महीनों से सैलरी नहीं दी जा रही है, और पायलटों ने ‘बीमारी’ का बहाना बनाकर छुट्टी मार ली.

जेट एयरवेज ने इन्हें सितंबर महीने की सैलरी टुकड़ों में दी थी. लेकिन अक्टूबर और नवंबर महीने की सैलरी अभी तक नहीं दी गई है.

साथ ही सूत्रों ने बताया, ‘पायलटों के ‘बीमार’ पड़ने की सूचना के बाद 14 उड़ानें रद्द कर दी गईं. पायलट सैलरी नहीं मिलने का विरोध कर रहे हैं.’ वहीं जेट एयरवेज का कहना है कि फ्लाइट्स ‘अप्रत्याशित परिचालन परिस्थिति’ की वजह से रद्द की गई हैं, न कि पायलटों के विरोध के वजह से ऐसा हुआ है.

एक अन्य सूत्र ने बताया, ‘कई पायलटों ने चेयरमैन नरेश गोयल को पत्र लिखकर कहा है कि वे इस तरह से काम नहीं कर पाएंगे.’ जेट एयरवेज ने बताया कि उड़ानें रद्द होने पर यात्रियों को एसएमएस के जरिए उनकी फ्लाइट के स्टेट्स के बारे में जानकारी दे दी गई थी. और उन्हें या तो दूसरी फ्लाइट्स से भेजा गया या फिर मुआवजा दे दिया गया.

साथ ही जेट एयरवेज ने कहा, ‘कंपनी को उसके कर्मचारियों का पूरा सहयोग मिल रहा है.’ साथ ही कहा कि प्रबंधन लगातार पायलट और अन्य कर्मचारियों की टीमों से बातचीत कर रहा है, ताकि सैलरी सहित अन्य मुद्दों पर चल रहे विवादों को सुलझाया जा सके.

Summary
Review Date
Reviewed Item
'बीमारी' का बहाना बनाकर पायलटों ने ली छुट्टी, 14 उड़ानें रद्द
Author Rating
51star1star1star1star1star
Tags