पुनीत सिन्हा द्वारा लगाए गए आरोपों का आदर्श सचिव संघ पिथौरा ने किया खंडन

विकास अग्रवाल पिथौरा:

पिथौरा: आदर्श सचिव संघ द्वारा एक प्रेस विज्ञप्ति जारी की गई जिसमे बताया गया कि पुनीत सिन्हा द्वारा हमारे संघ के खिलाफ कुछ दैनिक समाचार पत्रों में मिथ्या एवं भ्रामक समाचार का प्रकाशन करवाया गया है। जिसका हम आदर्श सचिव संघ पिथौरा खंडन करते है।

आदर्श सचिव संगठन पिथौरा अपनी मांगो को लेकर बसना विधायक देवेन्द्र बहादुर एवं खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव से मुलाकात करने हेतु निवेदन किया गया था। जिसके बाद विधायक ने 5 फरवरी को वन विश्राम गृह पिथौरा में मिलने का समय दिया था।

तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ द्वारा आयोजित कार्यक्रम में सम्मिलत होने का निमंत्रण कार्ड आदर्श सचिव संघ को तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ के अध्यक्ष उमेश दीक्षित द्वारा दिया गया जिसको सहर्ष स्वीकार किया गया जिसको समाचार पत्र के माध्यम से विरोध करना बताया है।

आदर्श सचिव संघ द्वारा सर्व सचिव हित में मांग पत्र प्रेषित किया है जिसमें मांग रखी गई है जिनमें पंचायत सचिवों को शासकीय कर्मचारी घोषित कर सरकारी कर्मचारी की भांति वेतन एवं सुविधा प्रदाय की जाये।

2 वर्ष पूर्ण कर चुके सचिवों को नियमित करने और पूर्ण पेंशन योजना लागू करने का मांग पत्र दिया गया। जिस पर बसना विधायक देवेन्द्र बहादुर एवं खल्लारी विधायक द्वारिकाधीश यादव द्वारा मांग को जल्द से जल्द पूरा कराने ज्ञापन को राज्य सरकार तक पहुंचाने का आश्वासन दिया।

मिथ्या समाचार प्रकाशित करवाने की घोर निन्दा की

सचिव हित में आदर्श सचिव संगठन पिथौरा द्वारा किये गये कार्य को गलत ढंग से मिथ्या समाचार प्रकाशित करवाने की घोर निन्दा की। इस दौरान आदर्श सचिव संघ के अध्यक्ष अनिल दुबे, सचिव रोहित पटेल, कोषाध्यक्ष श्याम पटेल, उपाध्यक्ष कृष्णा चैहान,

मीडिया प्रभारी नरेन्द्र वैष्णव, प्रवक्ता वृन्दावन विश्वकर्मा, सदस्य कुंती आवडे, रमोला ठाकुर, सुशिला पटेल, हेमलता साहू, पार्वती, गुलाब, सुनिल, रेणुका डड़सेना, पुष्पा चैहान, पुष्पलता साव, उमा ठाकुर, मोघीलाल, आत्माराम, कार्तिक भरतद्धाज, शिवलाल, लीलाराम,

विक्रम निषाद, हीरामणी यादव, ओमप्रकाश, रेखराज, लाकेश, विनय गार्डिया, राकेश, नरेन्द्र, नरेन्द्र सिन्हा, केवलसिंह, राजेन्द्र सोनी, रविलाल चैहान, हेतराम विशाल, मुकेश दीवान, रामअवतार, खुपचन्द, पुष्पेन्द्र निषाद, रोहित ओगरे, डोमन टाण्डी, हरिहर यदु आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Back to top button