बदली 150 साल पुरानी परंपरा, अब हर स्‍टेशन पर FOB होगा अनिवार्य

मुंबई के परेल-एलफिंस्टन स्टेशन के पास बने पुल पर मची भगदड़ के बाद रेल मंत्रालय हरकत में आया है। रेलमंत्री पीयूष गोयल ने वरिष्‍ठ अधिकारियों की बैठक चर्चगेट स्थित पश्चिमी रेलवे मुख्‍यालय में बुलाई। बैठक के बाद पीयूष गोयल ने कहा कि ‘रेलवे 150 साल पुरानी परंपरा को सिर के बल उलटने जा रहा है। अब से फुटओवर ब्रिज को अनिवार्य किया जाएगा, यात्री सुविधा की वस्‍तु नहीं समझा जाएगा। गोयल ने कहा कि ब्‍यूरोक्रेसी या अन्‍य किसी वजह से होने वाली देरी को खत्‍म करने के लिए मैंने जनरल मैनेजर्स को सुरक्षा के लिए कितना भी खर्च करने की शक्ति दी है।” गोयल ने अब वही कदम उठाने की बात कही है जिसके बारे में सोशल मीडिया पर लंबे समय से मांग उठ रही है। गोयल ने कहा, ”मुंबई के उपनगरीय स्‍टेशनों व सभी उच्‍च-ट्रैफिक वाले स्‍टेशनों पर अतिरिक्‍त एस्‍केलेटर्स की व्‍यवस्‍था की गई है।”

नई दिल्ली में रेलवे बोर्ड एक अधिकारी ने दुर्घटना की जांच की घोषणा की है। घटना के कारणों का पता नहीं चल पाया है। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि इलेक्ट्रिक शॉर्ट सर्किट की अफवाह के बाद यह भगदड़ हुई। अधिकारियों ने हालांकि अचानक बारिश होने से पुल पर भारी संख्या में लोगों की भीड़ को जिम्मेदार ठहराया है। बारिश से बचने के लिए अधिक संख्या में लोग पुल पर इकट्ठा हो गए थे।

Back to top button