अंतर्राष्ट्रीय

OMG : 32 हजार फीट पर उड़ रहे प्लेन का इंजन गिरा, जाने फिर क्या हुआ

वॉशिंगटन। अमेरिका के एक यात्री विमान का इंजन 32 हजार फीट की ऊंचाई में टूटकर विमान से अलग हो गया। इसके कारण फिलेडेल्फिया में विमान की इमरजेंसी लैंडिंग करानी पड़ी। मगर, इस पूरी घटना में एक बात बेहद अहम रही और वह है पायलट टेमी जो शुल्ट्ज का शांत दिमाग और चतुराई से फैसला लेने की क्षमता। उन्होंने यात्रियों को इस बात की भनक तक नहीं लगने दी कि विमान का एक इंजन ही नहीं है।

हालांकि, इस हादसे में एक व्यक्ति घायल हो गया। उसे अस्पताल में दाखिल कराया गया है। मगर, जब विमान में सवार यात्रियों को शुल्ट्ज की बहादुरी का पता चला, तो वे तारीफ किए बिना नहीं रह सके। सोशल मीडिया में उनके कारनामे की चर्चा चल रही है। बताते चलें कि साउथवेस्ट एयरलाइन्स का विमान बोइंग 737-700 मंगलवार को न्यूयॉर्क से डालास जा रहा था। इस दौरान बीच हवा में विमान का इंजन गिर गया।

साउथवेस्ट एयरलाइन्स ने एक बयान में कहा कि विमान में 143 यात्री और पांच क्रू सदस्य सवार थे। विमान कंपनी घटना के बारे में और अधिक जानकारी जुटाने की कोशिश कर रही है। यात्रियों द्वारा सोशल मीडिया पर शेयर की गई तस्वीरों में विमान बुरी तरह क्षतिग्रस्त नजर आ रहा है।

अमेरिकी राष्ट्रीय परिवहन सुरक्षा बोर्ड ने मामले की जांच का आदेश दिया है। बताया जा रहा है कि शुल्ट्ज ने एयर ट्रैफिक कंट्रोल को बताया कि उन्हें रनवे पर एंबुलेंस की जरूरत होगी क्योंकि उनके विमान में कुछ मिसिंग हैं। इस दौरान वह बिल्कुल शांत रहीं और किसी को भी यह अंदाजा नहीं लगने दिया कि मुसीबत कितनी बड़ी है।

56 वर्षीय शुल्ट्ज ने अमेरिकी नेवी में पहली बार एफ-18 फाइटर जेट को 150 मील प्रति घंटे की रफ्तार से उतारकर अपनी जिंदगी का पहला अनुभव लिया था। इस अनुभव का उपयोग उन्होंने मंगलवार को उस वक्त किया, जब 32 हजार फीट की ऊंचाई पर प्लेन से टूटकर इंजन गिर गया।

congress cg advertisement congress cg advertisement
Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.