आदर्श जिला बनाने के लिए ग्राम लंजोड़ा में हुआ वृक्षारोपण

राज शार्दूल

कोण्डागांव।

जिला कलेक्टर नीलकंठ टीकाम द्वारा ग्राम लंजोड़ा में स्कूली बच्चों के साथ वृक्षारोपण का कार्यक्रम सम्पन्न किया गया। इस अवसर पर जिला कलेक्टर ने कहा कि कि पूरा छत्तीसगढ़ विशेष रुप से बस्तर संभाग आज भी पर्यावरण की दृष्टि से एक आदर्श स्थान के रुप में जाना जाता है। अतः हम सभी आज संकल्प ले कि बस्तर की इस आदर्श छवि को सघन वृक्षारोपण करके कायम रखे।

इस दौरान उन्होंने वृक्षारोपण के महत्व पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वृक्ष हमारे प्राण वायु का मुख्य आधार है। मानव द्वारा विकास के नाम पर किये गये अंधाधुंध पेड़ो के दोहन का दुष्परिणाम हम ग्लोबल वार्मिगं के रूप मे देख रहे है। हमारी आने वाली पीढ़ी को इस दुष्परिणाम से बचाने के लिए हमे आज से ही प्रण लेकर वृक्षा रोपण कार्य प्रारंभ करना होगा। विकास कार्य के नाम पर पेड़ो के दोहन की क्षतिपूति का एक मात्र उपाय वृक्षा रोपण है।

ज्ञात हो कि जिले मे 18 जून से ही वृक्षारोपण अभियान प्रांरभ कर दिया गया है। इसके अलावा शालाओ मे छात्र-छात्राओ को स्वच्छता एंव पर्यावरण के विषय मे जागरूक कर पौध रोपण कराया जा रहा है। इसके साथ जिले के लगभग 1 लाख 80 हजार बच्चो के आईकार्ड मे उनके बायोडाटा के साथ उनके द्वारा लगाये गये पौधो का भी उल्लेख होगा।

इनमे से बच्चो द्वारा रोपे गये पौधो के सही रख रखाव एंव जीवित पौधे के आधार पर उनके पर्यावरण विषय पर 5 अतिरिक्त बोनस नम्बर दिये जायेगें।इस दौरान लंजोड़ा की महिलाओं ने जिला कलेक्टर को रक्षासूत्र बांधकर संकल्प लिया कि वे जिला प्रशासन के हर कार्य में अपनी सहभागिता निभाएंगे।

Tags
Back to top button