खेल

भारत में खेलना और खासकर लंबे प्रारूप में खेलना कठिन :मैट प्रायर

चार मैचों की टेस्ट सीरीज से पहले इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर मैट प्रायर ने किया दावा

नई दिल्ली:इंग्लैंड के पूर्व क्रिकेटर मैट प्रायर ने चार मैचों की टेस्ट सीरीज से पहले कहा कि भारत में खेलना और खासकर लंबे प्रारूप में खेलना कठिन है और विकेट कीपरों के लिए यह मानसिक रूप से बहुत कठिन होता है।

भारत और इंग्लैंड के बीच चार टेस्ट, पांच टी20 इंटरनेशनल और तीन एकदिवसीय मैचों की सीरीज होनी है। टेस्ट सीरीज के पहले दो मुकाबले चेन्नई में खेले जाने हैं, जबकि अगले दो टेस्ट अहमदाबाद में खेले जाएंगे।

सीरीज से पहले इंग्लैंड की टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज मैट प्रायर ने कहा है कि खिलाड़ियों को बहुत उमस भरे मौसम में कठिन दौरे के लिए तैयार करने की आवश्यकता है। इस तरह की परिस्थितियों में विकेटकीपिंग कठिन है।

मैट प्रायर ने क्रिकइंफो से बात करते हुए कहा है, “भारत में टेस्ट क्रिकेट खेलना आकर्षण के बारे में है। विकेटकीपिंग के नजरिए से, दिन के पहले ओवर में जिमी एंडरसन 80 मील प्रति घंटा की रफ्तार से गेंदबाजी कर रहे होते हैं तो मैं सचमुच चार गज पीछे खड़ा होता। यह स्पष्ट रूप से बहुत गर्म और बहुत नम है। इसलिए आपको इस जगह को भरने के लिए तैयार रहना होगा। आप इससे दिमागी तौर पर भी खाली हो जाते हैं।”

उन्होंने कहा है कि इंग्लैंड में खेलने वाले खिलाड़ियों को भारत जैसे देशों में बहुत परेशानी होती है, क्योंकि वहां गेंद स्विंग होती है, लेकिन यहां कम मौके होते हैं। मैच प्रायर ने कहा है कि गर्म और उमस की वजह से विकेटकीपरों को काफी परेशानी होती है। प्रायर खुद इस बात से वाकिफ हैं, क्योंकि वे 2012 में भारत का दौरा कर चुके हैं।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button