तेंदूपत्ता टेंडर में घोटाले के आरोप मामले में याचिका खारिज

हाई कोर्ट जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा के डिवीजन बैंच ने फैसला सुरक्षित रखा

बिलासपुर: छत्तीसगढ़ में तेंदूपत्ता संग्रहण के लिए जारी टेंडर में घोटाले के आरोप की याचिका बुधवार को खारिज कर दी गई। मामले में लगी दो याचिकाओं को बिलासपुर हाई कोर्ट ने खारिज कर दिया है। मामले की सुनवाई बीते मंगलवार को ही पूरी हो गई थी। इसके बाद हाई कोर्ट जस्टिस प्रशांत कुमार मिश्रा के डिवीजन बैंच ने फैसला सुरक्षित रखा था।

हाई कोर्ट से याचिका खारिज होने के साथ ही कम बोली वाले को टेंडर देने में मनाही पर लगी रोक भी हट गई। मामले में संत कुमार नेताम और अमरनाथ अग्रवाल ने याचिका दायर की थी, जिसे खारिज कर दिया गया। याचिका में संत कुमार नेताम ने कम बोली पर टेंडर देने के कारण किसानों को 300 करोड़ की नुकसान होने आशंका जाता लगाई थी। साथ ही टेंडर जारी करने में बड़े घोटाले का भी आरोप लगाया था।

Back to top button