प्रधानमंत्री ने हिल स्टेशनों और बाजारों में बढ़ती भीड़ पर चिंता जताई

मोदी ने मुख्‍य मंत्रियों से कहा कि वे कोविड-19 महामारी के दौरान पिछले डेढ़ साल में प्राप्‍त अनुभवों और विकसित बचाव पद्धतियों का उपयोग करें।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हिल स्टेशनों और बाजारों में बढ़ती भीड़ पर चिंता जताई है और लोगों से आग्रह किया है कि वे कोविड के मानदंडों का सख्ती से पालन करें। उन्होंने कोरोना वायरस का फैलाव रोकने के लिए कोविड दिशा-निर्देशों को सख्ती से लागू करने पर बल दिया।

असम, नगालैंड, त्रिपुरा, सिक्किम, मणिपुर, मेघालय, अरुणाचल प्रदेश और मिजोरम के मुख्य मंत्रियों के साथ हुए संवाद में प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना वायरस लगातार अपना रूप बदल रहा है और इसके नए वेरिएंट्स पर नजर रखने की जरूरत है। श्री मोदी ने मुख्‍य मंत्रियों से कहा कि वे कोविड-19 महामारी के दौरान पिछले डेढ़ साल में प्राप्‍त अनुभवों और विकसित बचाव पद्धतियों का उपयोग करें।

प्रधानमंत्री ने कोरोना संक्रमण की संभावित तीसरी लहर के मद्देनजर टीकाकरण प्रक्रिया में तेजी लाने पर जोर दिया। उन्होंने लोगों में वैक्सीन को लेकर भ्रम दूर करने पर भी जोर दिया। पूर्वोत्तर राज्यों के कुछ जिलों में बढ़ते संक्रमण पर चिंता व्यक्त करते हुए श्री मोदी ने कहा कि वायरस का फैलाव रोकने के लिए माइक्रो कंटेनमेंट जोन बनाने, कोरोना जांच का दायरा बढ़ाने और टीकाकरण में तेजी लाने की जरूरत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि केंद्र द्वारा घोषित 23 हजार करोड़ रुपये के पैकेज से पूर्वोत्तर राज्यों को लाभ पहुंचेगा। उन्‍होंने कहा कि इससे पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में स्वास्थ्य ढांचा मजबूत बनाने और जांच, निदान और जीनोम सीक्‍वेंसिंग में मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री ने पूर्वोत्‍तर क्षेत्र में बिस्‍तरों की संख्‍या बढ़ाने, ऑक्‍सीजन सुविधाएं और महामारी देखभाल ढांचा शीघ्र विकसित करने की आवश्‍यकता पर बल दिया। उन्‍होंने कहा कि ऑक्सीजन की आपूर्ति में सुधार के लिए पूर्वोत्तर राज्यों में डेढ़ सौ ऑक्सीजन संयंत्र स्थापित किए जा रहे हैं।

पूर्वोत्‍तर की भौगोलिक स्थिति को देखते हुए श्री मोदी ने अस्‍थायी अस्‍पताल बनाने की आवश्‍यकता पर जोर दिया। केंद्र सरकार से सभी तरह की मदद का आश्‍वासन देते हुए कहा कि सामूहिक प्रयासों से ही इस महामारी से कारगर ढंग से निपटा जा सकता है।

बातचीत के दौरान केंद्रीय गृह, सुरक्षा, स्‍वास्‍थ्‍य, पूर्वोत्‍तर क्षेत्र विकास और अन्‍य मंत्री भी मौजूद थे। इस अवसर पर गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि कोविड रोगियों की संख्‍या में हर रोज कमी आ रही है, लेकिन उन्‍होंने आगाह किया कि इस बारे में कोई ढील नहीं दी जानी चाहिए और हमें अपने प्रयास नहीं छोड़ने चाहिए। केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य सचिव ने देश में कोविड रोगियों की समग्र स्थिति से अवगत कराया और पूर्वोत्‍तर राज्‍यों में बढ़ते मामलों पर चिंता प्रकट की। उन्‍होंने चिकित्‍सा ऑक्‍सीजन की आपूर्ति बढ़ाने और टीकाकरण की प्रगति के लिए किए गए उपायों की जानकारी दी।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button