PM Kisan: सम्मान निधि के तहत ट्रांसफर की जा रही 8वीं किस्त

अपने खाते में ऐसे करें चेक

नई दिल्ली। पीएम किसान सम्मान निधि (PM kisan samman nidhi) के तहत आपके खाते में जल्द ही 2000 रुपये आने वाले हैं, ये किस्त अप्रैल से जुलाई के बीच में आएगी, देश के करीब 11 करोड़ 74 लाख किसानों को 8वीं किस्त ट्रांसफर की जाएगी, अगर आपने भी पीएम किसान सम्मान निधि के लिए आवेदन किया है तो लिस्ट में अपना नाम चेक कर सकते हैं।

आपको बता दें कि आप स्टेटस चेक करके यह पता लगा सकते हैं कि आपकी किस्त अप्रूवड हो गई है या फिर नहीं, आपको बता दें अगर आपकी पीएम किसान के स्टेटस में Waiting for approval by state लिखा दिख रहा है तो इसका मतलब है कि आपको पैसे मिलने में थोड़ा समय लग सकता है, यानी राज्य सरकार की ओर से अभी तक इसको मंजूरी नहीं दी गई है।

पीएम किसान स्कीम का इस तरह चेक करें स्टेटस-
>> पीएम किसान (PM Kisan) की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in/ पर जाएं।
>> यहां आपको राइट साइड पर ‘Farmers Corner’ का ऑप्शन मिलेगा।
>> यहां ‘Beneficiary Status’ के ऑप्शन पर क्लिक करें।
>> यहां नया पेज खुल जाएगा।
>> नए पेज पर आधार नंबर, बैंक खाता संख्या या मोबाइल नंबर में से किसी एक विकल्प को चुनिए।
>> इन तीन नंबरों के जरिए आप चेक कर सकते हैं कि आपके अकाउंट में पैसे आए या नहीं।
>> आपने जिस विकल्प का चुनाव किया है, उसका नंबर भरिए।
>> इसके बाद ‘Get Data’ पर क्लिक करें।
>> यहां क्लिक करने के बाद आपको सभी ट्रांजेक्शन की जानकारी मिल जाएगी, यानी कौनसी किस्त कब आपके खाते में आई और किस बैंक अकाउंट में क्रेडिट हुई।
>> आठवीं किस्त से जुड़ी जानकारी भी आपको यहां मिल जाएगी।

किसान पीएम किसान हेल्पलाइन से भी जानकारी ले सकते हैं और कोई समस्या हो ता शिकायत दर्ज करा सकते हैं। पीएम किसान हेल्पलाइन नंबर 155261 है. इसके अलावा पीएम किसान टोल फ्री नंबर 18001155266 और पीएम किसान लैंडलाइन नंबर 011-23381092, 23382401 भी है। पीएम किसान की एक और हेल्पलाइन 0120-6025109 और ई-मेल आईडी [email protected] है।

बता दें कि पीएम किसान स्कीम के तहत हर साल मोदी सरकार किसानों को 6000 रुपये 2000, 2000 की तीन किस्तों में देती है, इसके तहत हर साल की पहली किस्त एक अप्रैल से 31 जुलाई, दूसरी किस्त एक अगस्त से 30 नवंबर और तीसरी किस्त एक दिसंबर से 31 मार्च के बीच आती है।

Tags
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement
cg dpr advertisement cg dpr advertisement cg dpr advertisement

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button