गुमराह युवाओं की ओर से उठाया गया हर पत्थर कश्मीर को अस्थिर करता है : पीएम मोदी

श्रीनगर: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ‘‘गुमराह युवाओं’’ से हिंसा का रास्ता छोड़ने और देश की मुख्यधारा में शामिल होने की अपील की है. उन्होंने कहा कि उनके द्वारा उठाया गया हर पत्थर या हथियार जम्मू कश्मीर को अस्थिरता के रास्ते पर ले जाता है.

सरकार द्वारा रमजान के महीने के दौरान राज्य में सुरक्षा अभियानों पर रोक की घोषणा किये जाने के बाद पहली बार बोल रहे मोदी ने कहा कि शांति और स्थिरता का कोई विकल्प नहीं है. उन्होंने 330 मेगावाट की किशनगंगा बिजली परियोजना को देश को समर्पित करते हुए कहा, ‘‘मेरी इन गुमराह युवाओं से अपील है कि देश की मुख्यधारा में वापस लौट आयें जो कि उनका अपना परिवार है और जम्मू कश्मीर के विकास में भागीदार बनें.’’ इसकी परियोजना की प्रगति की निगरानी प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा की जा रही थी.

‘‘मोदी..मोदी’’ के नारों के बीच प्रधानमंत्री ने परियोजना का उद्घाटन किया और शेर-ए-कश्मीर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र (एसकेआईसीसी) में श्रीनगर रिंग रोड की आधारशिला रखी. 42.1 किलोमीटर लंबी चार लेन वाली श्रीनगर रिंग रोड पश्चिम श्रीनगर स्थित गलांदर को बांदीपोरा जिले में सुंबल से जोड़ेगी और इससे यातायात की भीड़ कम होगी.

मोदी राज्य के तीन क्षेत्रों लेह, कश्मीर और जम्मू के एक दिवसीय दौरे पर हैं. उन्होंने जोजिला सुरंग के निर्माण की शुरूआत की जो कि लद्दाख के लिए सभी मौसम में चालू रहने वाला सम्पर्क मार्ग मुहैया कराएगा. मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत कश्मीरी में की और श्रीनगर के लोगों से उनका सलाम स्वीकार करने के लिए कहा और उनके अच्छे स्वास्थ्य एवं समृद्धि की कामना की. वह करीब आधे घंटे तक बोले और ‘कश्मीरियत’ के महत्व को रेखांकित किया.

new jindal advt tree advt
Back to top button