पीएम मोदी का दावा- चुनाव बाद पार्टी छोड़ेंगे कई TMC विधायक, डेरेक ने लगाया हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप

सेरमपुर (प. बंगाल)। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर तीखा हमला बोला। पीएम ने सेरमपुर में रैली के दौरान दावा किया कि चुनाव के बाद टीएमसी के कई विधायक पार्टी छोड़ने वाले हैं।

उन्होंने कहा कि टीएमसी के 40 विधायक बीजेपी के संपर्क में हैं। पीएम मोदी के इस बयान पर TMC नेता डेरेक ओ ब्रायन ने फौरन पलटवार किया। उन्होंने कहा कि एक्सपायरी बाबू PM, आपके साथ 1 पार्षद भी नहीं जाएगा। उन्होंने पीएम पर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप भी लगाया।

डेरेक ओ ब्रायन ने ट्वीट कर मोदी को एक्सपायरी बाबू पीएम कहते हुए कहा, ‘कोई भी आपके साथ नहीं जाएगा, 1 पार्षद भी नहीं।’ पीएम मोदी पर आरोप लगाते हुए TMC नेता ने कहा कि आप चुनाव प्रचार कर रहे हो या हॉर्स ट्रेडिंग? आपकी एक्सपायरी डेट नजदीक है। ब्रायन ने कहा है कि वह चुनाव आयोग के पास शिकायत करने जा रहे हैं और आप (पीएम) पर हॉर्स ट्रेडिंग का आरोप लगाएंगे।

‘बीजेपी के संपर्क में TMC विधायक’

इससे पहले मोदी ने कहा, ‘पश्चिम बंगाल के लोगों के साथ विश्वासघात करने वाली दीदी, बस इतना समझ लो, ये देश की जनता गलती माफ कर सकती है लेकिन विश्वासघात को माफ नहीं कर सकती। दीदी, आपकी जमीन खिसक चुकी है और दीदी देख लेना कि जब 23 तारीख को नतीजे आएंगे और चारों तरफ कमल खिलेगा तो विधायक भी आपको छोड़कर भाग जाएंगे दीदी। आज भी आपके 40 विधायक हमारे संपर्क में हैं। दीदी आपका बचना मुश्किल है क्योंकि आपने विश्वासघात किया है।’

पीएम मोदी ने ममता बनर्जी के उस बयान पर भी प्रतिक्रिया दी, जिसमें सीएम ने मोदी को कंकड़ वाला रसगुल्ला खिलाने की बात कही थी। मोदी ने कहा कि जिस देश की मिट्टी में बड़े-बड़े महापुरुषों ने जन्म लिया, वहां का कंकड़ वाला रसगुल्ला भी मेरे लिए प्रसाद की तरह होगा।

दीदी के रसगुल्ले का इंतजार

मोदी ने कहा कि दीदी ने माटी और मानुष की बातें कही थीं न… लेकिन दीदी ने माटी को छोड़ दिया है। दीदी ने घोषणा की है कि वह बंगाल की मिट्टी और पत्थरों से बना रसगुल्ला खिलाना चाहती हैं। वाह! क्या सौभाग्य है! जिस मिट्टी पर रामकृष्ण परमहंस पैदा हुए, जिस मिट्टी पर स्वामी विवेकानंद पैदा हुए, चैतन्य महाप्रभु पैदा हुए, जगदीशचंद्र बसु हुए, नेताजी सुभाष बाबू हुए, श्यामाप्रसाद मुखर्जी पैदा हुए। मोदी ने कहा, ‘ऐसे अनगिनत महापुरुष जिनके चरणों की धूल बंगाल की माटी रही है, उसका रसगुल्ला मोदी के लिए मिलेगा, यह तो मोदी के लिए प्रसाद होगा।

दीदी मेरा भाग्य खुल जाएगा क्योंकि मेरे लिए मिट्टी प्रेरणा है, ऊर्जा है दीदी। मैं इंतजार करूंगा, बंगाल के मिट्टी के रसगुल्ले के लिए।….दीदी आपने यह भी कहा है कि रसगुल्ले में यहां के पत्थर भी होंगे तो मैं इसका भी आभारी हूं। पत्थर भेजेंगी तो यहां के नागरिकों के माथे फूटने से बचेंगे क्योंकि इन्हीं पत्थरों से टीएमसी के गुंडे यहां के नागरिकों का माथा फोड़ते हैं।’

Back to top button