बनारस को पीएम मोदी ने दिया करोड़ों की सौगात

एकीकृत बिजली विकास योजना और काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में अटल इन्क्यूबेशन केन्द्र शामिल

वाराणसी:

कशी में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रधानमंत्री ने 557 करोड़ रुपए की विभिन्न विकास परियोजनाओं का उपहार दिया है जिसमे एकीकृत बिजली विकास योजना और काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में अटल इन्क्यूबेशन केन्द्र शामिल हैं।

जानकारी मुताबिक जिन योजनाओं का शिलान्यास किया गया उसमें बीएचयू में रीजनल ऑप्थेमोलॉजी सेन्टर भी शामिल हैं। इस दौरान मोदी ने कहा कि पिछले 4 वर्षों में शहर में अच्छे बदलाव हुए हैं। यहां हुआ काम साफ-साफ नजर आ रहा है। उन्होंने कहा कि शहर को आधुनिक बनाने का काम उसकी पुरानी पहचान को बरकरार रखते हुए किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि जब मैं यहां आता था तो बिजली के लटकते तारों को देखकर हमेशा यह सोचता था कि काशी को इससे कब मुक्ति मिलेगी। आज काशी के अधिकतर हिस्से से ये तार हटा दिए गए हैं।

उन्होंने कहा कि आज काशी एलईडी की रोशनी से जगमगा रही है। एलईडी बल्ब से काशीवासियों के बिजली बिल में भी कमी आई है। काशी में हमारा वर्ल्ड क्लास इन्फ्रास्ट्रक्चर विकसित करने पर जोर है।

मोदी ने कहा कि यहां रिंग रोड बनाने की योजना पर बहुत तेजी से काम हो रहा है, जिसकी फाइल पिछली प्रदेश सरकार ने दबा कर रखी थी। इसके निर्माण से काशी ही नहीं, आसापास के जिलों को भी फायदा होगा। यहां का विकास होने से बिहार और नेपाल आदि जाने वाले लोगों को भी सहूलियत होगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने वाराणसी में बीएचयू के कार्यक्रम में अपनी सरकार के कामकाज का रिपोर्ट कार्ड पेश करते हुए कहा कि सड़कों को चौड़ा करने के साथ ही शहर में पुल का निर्माण भी किया गया है।

हवाई जहाज से बनारस आने वाले पर्यटकों की संख्या लगातार बढ़ रही है। स्मार्ट बनारस में स्मार्ट ट्रांसपोर्ट पर जोर दिया जा रहा है। काशी में ट्रैफिक व्यवस्था को समन्वित किया जा रहा है। काशी में सड़क और रेल के बाद जल परिवहन का नेटवर्क बढ़ाया जाएगा।

Back to top button