पीएम मोदी ने जी-20 शिखर सम्मेलन शुरू होने से पहले इन नेताओं से बातचीत की

जनधन, मुद्रा और स्टार्ट अप इंडिया योजनाओं का किया जिक्र

नई दिल्ली:

पीएम नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को ब्यूनस आयर्स में जी-20 (G20 Summit) शिखर सम्मेलन के उद्घाटन सत्र में अर्थव्यवस्था के आधुनिकीकरण और समावेशी विकास को बढ़ावा देने के लिए उनकी सरकार द्वारा लागू की गई प्रधानमंत्री जनधन योजना, मुद्रा और ‘स्टार्ट अप इंडिया’ जैसी प्रमुख योजनाओं का जिक्र किया।

इन सबसे पहले पीएम मोदी ने जी 20 सम्मेलन में हिस्सा लेने वाले सभी देशों के प्रतिनिधियों के साथ व्यावहारिक मुलाकात की। मोदी ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और ब्रिटेन की प्रधानमंत्री टेरीजा मे से बातचीत की।

मोदी, ट्रंप और जापान के प्रधानमंत्री शिंजो आबे के बीच त्रिपक्षीय बैठक से पहले यह संक्षिप्त बातचीत हुई। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार द्वारा ट्वीट की गई तस्वीर में मोदी ट्रंप से हाथ मिलाते हुए और बात करते हुए देखे गए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि वह अपने सामरिक मित्र देशों के साथ मिलकर विश्व शांति कायम करने का काम करेंगे। तीनों राष्ट्र मिलकर विश्व शांति, समृद्धि और स्थिरता को बनाए रखने में एक बड़ी भूमिका निभाएंगे।”

कुमार ने पुतिन, इटली के प्रधानमंत्री ग्यूसेप कोंते और ब्रिटिश प्रधानमंत्री के साथ मोदी की बातचीत का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘लीडर्स लाउंज में रूस, इटली और ब्रिटेन के नेताओं से बात हुई।’’

पीएम मोदी ने चीनी और रूसी प्रेस के साथ एक बैठक में कहा कि डब्ल्यूटीओ के दोहा विकास एजेंडा को रोक दिया गया है, हमने पेरिस समझौते के बाद से विकसित देशों की ओर से विकासशील देशों के लिए अपेक्षित वित्तीय प्रतिबद्धता नहीं देखी है।

पीएम मोदी ने चिली के राष्ट्रपति सेबस्टियन पिनेरा से भी मुलाकात की और उनके साथ कारोबार, ऊर्जा, कृषि और स्वास्थ्य जैसे परस्पर हित के कई क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने के तरीकों पर चर्चा की।

Back to top button