अंतर्राष्ट्रीयबड़ी खबरराज्यराष्ट्रीय

पीएम मोदी ने UN में कोरोना, पर्यावरण व विकास के मुद्दों पर की बात, जानें संबोधन से जुड़ी 10 खास बातें

उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी के इस दौर में कोविड के खिलाफ हमारी संयुक्त लड़ाई में हमने 150 से अधिक देशों की सहायता की है।

नई दिल्ली : ECOSOC सत्र के संबोधन में प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि संयुक्त राष्ट्र की 75वीं वर्षगांठ पर आज की दुनिया में इसकी भूमिका और महत्ता के आकलन का अवसर है।

उन्होंने कहा कि हमारा लक्ष्य सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास। पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी के इस दौर में कोविड के खिलाफ हमारी संयुक्त लड़ाई में हमने 150 से अधिक देशों की सहायता की है।

जानें पीएम नरेंद्र मोदी की 10 बड़ी बातें-

-मोदी ने कहा कि शुरुआत से ही भारत ने संयुक्त राष्ट्र के विकास कार्यों और ECOSOC का सक्रिय समर्थन किया है।ECOSOC के पहले अध्यक्ष भी एक भारतीय ही थे। ECOSOC के एजेंडा को आकार देने में भारत ने भी योगदान दिया है।

  • पीएम मोदी ने कहा कि भारत के 600,000 गांवों में पूर्ण स्वच्छता प्राप्त करके हमने पिछले साल राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150वीं जयंती मनाई।

-नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना महामारी ने सभी देशों के धैर्य की कठिन परीक्षा ली। भारत में हमने महामारी के खिलाफ लड़ाई को जन आंदोलन बनाने का प्रयास किया।

-संयुक्त राष्ट्र मूल रूप से द्वितीय विश्व युद्ध के उपद्रवों से पैदा हुआ था। आज इस महामारी के प्रकोप ने इसके पुनर्जन्म और सुधार के नए अवसर प्रदान किए हैं। आइए हम यह मौका न गवाएं।

-कोरोना वायरस को लेकर पीएम मोदी ने कहा कि हम सभी प्राकृतिक आपदाओं से लड़े हैं। हमने कोरोना वायरस से लड़ाई को जन आंदोलन बनाया और कोरोना पर भारत का रिकवरी रेट दुनिया में सबसे बेहतर है। हमने जनता को कोरोना के खिलाफ लड़ाई से जोड़ा।

-पीएम मोदी ने कहा कि हमने सिंगल यूज प्लास्टिक पर प्रतिबंध का अभियान चलाया। हम विकास के रास्ते पर आगे बढ़ते हुए पर्यावरण के बारे में भी सोच रहे हैं। इसके साथ ही पांच साल में हमने 38 मिलियन कार्बन उत्सर्जन कम किया है।

-पीएम मोदी ने भारत के वैश्विक योगदान का उल्लेख करते हुए कहा कि चाहे भूकंप, चक्रवात, इबोला संकट या कोई अन्य प्राकृतिक या मानव निर्मित संकट हो, भारत ने तेजी और एकजुटता के साथ जवाब दिया है।

-कोरोना के खिलाफ हमारी संयुक्त लड़ाई में हमने 150 से अधिक देशों में चिकित्सा और अन्य सहायता उपलब्ध करवाई है।

-पीएम मोदी ने संयुक्त राष्ट्र में सुधार को लेकर भी अपील की। उन्होंने अपने भाषण की शुरुआत में ही कहा कि भारत यूएन का फाउंडिंग मेंबर रहा है।

  • पीएम मोदी ने अपने भाषण के दौरान ऐलान किया कि जब भारत एक स्वतंत्र राष्ट्र के रूप में अपने 75साल पूरे करेगा तब हमारा ‘हाउसिंग फॉर ऑल’ कार्यक्रम 2022 तक प्रत्येक भारतीय के सिर पर एक सुरक्षित छत सुनिश्चित करेगा।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button