राष्ट्रीय

19 दिसंबर को एसोचैम फाउंडेशन वीक कार्यक्रम को संबोधित करेंगे पीएम मोदी

इस कार्यक्रम में देश के प्रमुख उद्योगपति लेंगे हिस्सा

नई दिल्ली:प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एसोचैम स्थापना सप्ताह पर आयोजित कार्यक्रम में 19 दिसंबर को उद्योगपतियों को संबोधित करेंगे। उद्योग मंडल ने सोमवार को एक बयान में यह जानकारी दी।

एक सप्ताह चलने वाला कार्यक्रम मंगलवार को शुरू हो रहा है। इसमें भारतीय कृषि में बदलाव और खाद्य मूल्य श्रृंखला विषय पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिहं तोमर अपने विचार रखेंगे। इसके अलावा भारत के वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनने की ओर अग्रसर विषय पर वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल उद्योगपतियों को संबोधित करेंगे।

इस कार्यक्रम में देश के प्रमुख उद्योगपति हिस्सा लेंगे। यहां जारी एक बयान में यह कहा गया है। मंगलवार से प्रारंभ हो रहे सप्ताह भर के इस कार्यक्रम में कई अलग-अलग विषयों को शामिल किया गया है।

भारतीय कृषि क्षेत्र और फूड वैल्यू चेन में बदलाव के विषय पर कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर अपने विचार पेश करेंगे। वहीं, ‘वैश्विक विनिर्माण केंद्र बनता भारत’ के थीम पर आयोजित कार्यक्रम को वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल संबोधित करेंगे।

इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने वालों को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के संबोधन से आगामी बजट को लेकर कुछ संकेत मिल सकते हैं। वहीं, सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी महत्वाकांक्षी इन्फ्रास्ट्रक्चर पाइपलाइन से जुड़े विवरण साझा कर सकते हैं।

एसोचैम के महासचिव दीपक सूद ने कहा कि भारत ने अभूतपूर्व कोविड-19 महामारी का पूरी साहस के साथ मुकाबला किया है। उन्होंने कहा कि इस वैश्विक स्वास्थ्य संकट ने सभी प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं को प्रभावित किया है। हालांकि, इन सबके बावजूद प्रधानमंत्री के मजबूत नेतृत्व में पांच ट्रिलियन डॉलर की इकोनॉमी बनने का हमारा संकल्प अब भी पहले की तरह दृढ़ है।

संचार और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद इलेक्ट्रॉनिक उत्पादन को गति देने, प्रोडक्शन से जुड़ी पहलों, डिजिटल इंडिया सहित विभिन्न महत्वपूर्ण मुद्दों पर अपनी बात रखेंगे। कपड़ा मंत्री स्मृति ईरानी, पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, श्रम मंत्री संतोष गंगवार और रसायन एवं उर्वरक मंत्री डी वी सदानन्द गौड़ा सहित कई अन्य केंद्रीय मंत्री इस कार्यक्रम को संबोधित करेंगे।

Tags

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा.

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Back to top button